समाचार
|| मराठी फिल्म उद्योग की तरह जल्द विकसित होगा बुंदेली फिल्म उद्योग : रोहणी || बीईजी सेंटर रूरकी में सैनिकों की पेंशन अदालत 30 मई को || जेल में महिला बंदियों के लिये प्रशिक्षण कार्यक्रम जारी || आंगनवाड़ी कार्यकर्ता महिलाओं को जागरूक कर घरेलू हिंसा को रोक सकती है: डॉ. सुभाष जैन || मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन यात्रा हेतु आवेदन आमंत्रित || रूक जाना नहीं योजना की परीक्षा 9 जून से || विश्व तम्बाकू एवं धूम्रपान निषेध दिवस 31 मई को || 30 मई को किया जाएगा फोटोयुक्त मतदाता सूची का प्रकाशन || समर्थन मूल्य पर चना, मसूर, सरसों की खरीदी 9 जून तक रहेगी जारी || रोजगार मेला 28 जून को
अन्य ख़बरें
मुख्य सचिव की अध्यक्षता में परख वीडियो कॉन्फ्रेंस सम्पन्न
-
देवास | 17-मई-2018
 
    मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न परख वीडियो कॉन्फ्रेंस में रबी उपार्जन, ग्रीष्म-काल में पेयजल व्यवस्था, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना सहित प्रदेश में जारी प्रमुख योजनाओं एवं कार्यक्रम की समीक्षा की गई। जिला मुख्यालय पर कलेक्टर डॉ श्रीकांत पांडेय, एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी एवं अन्य  संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
    वीडियो कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि 21 मई को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में कॅरियर काउंसलिंग की प्रक्रिया आरंभ करेंगे। बारहवीं कक्षा में 70 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों से मुख्यमंत्री स्वयं फोन के माध्यम से बातचीत करेंगे। कार्यक्रम प्रदेश के सभी जिला तथा विकासखण्ड मुख्यालयों पर आयोजित होगा।
    परख में अपर मुख्य सचिव जल-संसाधन एवं चिकित्सा शिक्षा श्री आर.एस. जुलानिया, कृषि उत्पाद आयुक्त श्री पी.सी. मीना, प्रमुख सचिव कृषि डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव गृह श्री मलय श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव सहकारिता श्री के.सी. गुप्ता, प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्रीमती नीलम शमी राव, प्रमुख सचिव राजस्व श्री अरुण पाण्डे, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती दीप्ति गौड़ मुखर्जी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। वीडियो कॉन्फ्रेंस में समस्त संभागायुक्त तथा जिला कलेक्टर ने सहभागिता की।
    मुख्य सचिव श्री सिंह ने गेहूँ उपार्जन प्रक्रिया पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि भण्डारण प्रक्रिया तत्काल सुनिश्चित की जाये। वीडियो कॉन्फ्रेन्स में जानकारी दी गई कि 84 प्रतिशत खातों में आधार दर्ज हो चुके हैं।
    मुख्य सचिव ने मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में 26 जून तक सत्यापन निरंतर रखने के निर्देश दिये। इस मौके पर बताया गया कि किसान हितैषी योजनाओं और नवीन तकनीकों की जानकारी देने के लिये प्रदेश में क्लस्टर स्तर पर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की जायेगी। प्रदेश में 2850 क्लस्टर पर इन कार्यक्रमों में वैज्ञानिक, कृषि विशेषज्ञ कृषकों से चर्चा करेंगे। नवीन क्लाईमेट स्मार्ट बीजों के पैकेट भी कृषकों को उपलब्ध करवाये जायेंगे।
(7 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2018जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
30123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer