समाचार
|| भारतमाला योजना में प्रदेश में 5,987 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग स्वीकृत || प्रदेश में 1500 मेगावॉट के तीन सौर ऊर्जा पार्क बनेंगे || मानसून पूर्व पुनर्वास स्थलों पर सभी सुविधाएँ सुदृढ़ करें || मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना में लेपटॉप वितरण कार्यक्रम 28 मई को || नगरीय निकायों की सेवाएँ ऑनलाइन करने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य : श्रीमती माया सिंह || प्रदेश के हित में रिसर्च को प्रोत्साहित करें- मंत्री श्री गुप्ता || मेडिकल कॉलेज जबलपुर में सहायक प्राध्यापक एवं प्रदर्शक पदों पर सीधी भर्ती || हज-2018 की द्वितीय एवं अंतिम किश्त जमा करने की अंतिम तिथि आज || मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना में संशोधन || मॉ तुझे प्रणाम योजनान्तर्गत युवा अंतर्राष्ट्रीय बार्डर पेट्रापोल जायेंगे
अन्य ख़बरें
अभियान चलाकर किया जायेगा सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का निराकरण
-
नरसिंहपुर | 03-मई-2018
 
   
   कलेक्टर अभय वर्मा के निर्देशानुसार सीएम हेल्पलाइन के एल- 1 एवं एल- 2 अधिकारियों और समाधान एक दिवस तत्काल सेवा का एक दिवसीय प्रशिक्षण कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में दिया गया। इस दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार ने निर्देश दिये हैं कि आगामी 15 दिनों में सघन अभियान चलाकर सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का निराकरण सुनिश्चित करें। आवेदक से बात करके संतुष्टि के साथ शिकायत का निराकरण होना चाहिये। संबंधित विभाग आवश्यकतानुसार शिविर लगाकर शिकायतों का निराकरण करें। शिकायतकर्ता को शिविर में बुलाकर चर्चा करें और शिकायत का निपटारा करें। श्री अहिरवार सीएम हेल्पलाइन और समाधान एक दिवस तत्काल सेवा के प्रशिक्षण में अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।
   सीएम हेल्पलाइन की कृषि उपज मंडी नरसिंहपुर से संबंधित शिकायतों के निराकरण की समीक्षा करते हुए इसकी प्रगति पर सीईओ श्री अहिरवार ने अप्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने वांछित जानकारी लेकर बैठक में नहीं आने पर कृषि उपज मंडी समिति नरसिंहपुर के सचिव को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। श्री अहिरवार ने विभागवार सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों की समीक्षा की।
   प्रशिक्षण के दौरान श्री अहिरवार ने बताया कि एल- 1 अधिकारी शिकायत को भली- भांति पढ़ें, इसके बाद शिकायतकर्ता से बात जरूर करें। तत्पश्चात सक्षम अधिकारी से आवश्यकतानुसार प्रकरण की जांच करायें और जबाव पोर्टल पर दर्ज करायें। शिकायतों के निराकरण का लगातार फालोअप करते रहें। शिकायतों के निराकरण में संतुष्टि का स्तर अच्छा रहना चाहिये। श्री अहिरवार ने कहा कि विभिन्न विभाग बेहतर समन्वय के साथ शिकायतों का निराकरण समय सीमा में सुनिश्चित करें। सहकारिता, कृषि उपज मंडी व कृषि विभाग आपसी समन्वय से शिकायतों का निराकरण करें। इसी तरह लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और जनपद पंचायतें समन्वय के साथ कार्य करें। पेयजल आपूर्ति से संबंधित शिकायतों के निराकरण को सर्वोच्च प्राथमिकता दें। बीईओ और बीआरसी मिलकर छात्रवृत्ति से संबंधित प्रकरणों का निराकरण मिलकर करें। एसएलआर सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण अभियान चलाकर करें।
   समाधान एक दिवस तत्काल सेवा की समीक्षा के दौरान श्री अहिरवार ने कहा कि पदाभिहित अधिकारी नियत दिन संबंधित लोक सेवा केन्द्र में दोपहर डेढ़ बजे के बाद अनिवार्य रूप से बैठें और आवेदन का निपटारा आवश्यक रूप से सुनिश्चित करें। प्रकरणों का निराकरण एसडीएम के समन्वय से सुनिश्चित किया जावे। जिला प्रबंधक लोक सेवा प्रबंधन सौरभ चौबे ने कहा कि लोक सेवा गारंटी के आवेदनों का संबंधित अधिकारी समय सीमा में निराकरण करें। समय सीमा बाह्र प्रकरणों में पदाभिहित अधिकारी के विरूद्ध जुर्माना लगाया जायेगा।
   बैठक में डिप्टी कलेक्टर सोनम जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया, महाप्रबंधक उद्योग पीडी वंशकार, जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा श्वेता जाधव, जिला शिक्षा अधिकारी जेके मेहर, डीपीसी एसके कोष्टी, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवायें डॉ. शिव, जिला आपूर्ति अधिकारी आरसी मीणा, सहायक मिट्टी परीक्षण अधिकारी डॉ. आरएन पटैल, जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारी, एल- 1 व एल- 2 अधिकारी और अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।
(20 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2018जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
30123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer