समाचार
|| निःशुल्क आवासीय प्रशिक्षण हेतु आवेदन आमंत्रित || सामाजिक समरसता की दिशा में कुंभ काफी उपयोगी-मुख्यमंत्री श्री चौहान || प्राचार्यों को समग्र शिक्षा पोर्टल पर साईकिलों के चेचिस नम्बर की प्रविष्टि कराने के निर्देश || पॉलीटेक्निक कॉलेज में दी गई सीनियर छात्राओं को बिदाई || केन्द्रीय आदिवासी विकास राज्यमंत्री का आज करेंगे आदिम जाति कल्याण से संबंधित योजनाओं की समीक्षा || आदि उत्सव के अंतिम दिन आज होगा सामूहिक विवाह तथा निकाह || जनजातीय शोध पत्रों का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाना चाहिए-राज्य सभा सांसद || रुखमाबाई की बनाई चूड़ियाँ खरीदने आते है कई व्यापारी ‘‘सफलता की कहानी ’’ || चम्बल जलावर्धन योजना के स्थल चयन का शीघ्र पुनः निरीक्षण किया जावेगा - नगर पालिका अध्यक्ष श्री गुप्ता || मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना हेतु आवेदन आमंत्रित
अन्य ख़बरें
जिला स्तरीय किसान सम्मेलन आज "मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना"
जिले के 34 हजार किसानों के खाते में अंतरित होगी, 84 करोड़ 87 लाख रूपये की प्रोत्साहन राशि
जबलपुर | 15-अप्रैल-2018
 
   किसानों को उनकी उपज की वाजिब कीमत दिलाने के उद्देश्य से राज्य शासन द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत कल सोमवार 16 अप्रैल को कृषि उपज मण्डी जबलपुर के प्रांगण में आयोजित जिला स्तरीय कृषक सम्मेलन में जिले के 34 हजार 103 किसानों को 84 करोड़ 86 लाख 96 हजार 266 रूपये की प्रोत्साहन राशि का भुगतान उनके बैंक खाते में अंतरित कर किया जायेगा।
   किसान सम्मेलन एवं प्रोत्साहन राशि के वितरण का यह कार्यक्रम दोपहर 12 बजे प्रारंभ होगा।  उप संचालक किसान कल्याण एवं कृषि विकास एस.के. निगम के मुताबिक प्रदेश के गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह के मुख्य आतिथ्य में आयोजित इस सम्मेलन में सांसद राकेश सिंह एवं जिले के सभी विधायक शामिल होंगे। महापौर एवं जिला पंचायत अध्यक्ष भी इस कार्यक्रम में मौजूद रहेंगी।
   उप संचालक किसान कल्याण के अनुसार किसान सम्मेलन में किसानों के बैंक खातों में अंतरित की जाने वाली प्रोत्साहन राशि पिछले उपार्जन वर्ष के दौरान न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं और धान का विक्रय करने वाले किसानों को 200 रूपये प्रति क्विंटल की दर से प्रदान की जा रही है।  उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत दी जा रही कुल 84 करोड़ 86 लाख 96 हजार 266 रूपये की इस प्रोत्साहन राशि में से गेहूं का विक्रय करने वाले 16 हजार 379 किसानों को 42 करोड़ 11 लाख 93 हजार 376 रूपये तथा धान का विक्रय करने वाले 17 हजार 764 किसानों को 42 करोड़ 75 लाख 2 हजार 890 रूपये की राशि का भुगतान उनके बैंक खातों में अंतरित कर किया जायेगा।
इस बार 265 रूपये मिलेगी प्रोत्साहन राशि:-
   उप संचालक किसान कल्याण एवं कृषि विकास ने बताया कि पिछले उपार्जन वर्ष के साथ ही राज्य शासन ने चालू उपार्जन वर्ष में भी ई-उपार्जन व्यवस्था के तहत गेहूं का विक्रय करने वाले पंजीकृत किसानों को 1 हजार 765 रूपये प्रति क्विंटल के समर्थन मूल्य के अतिरिक्त 265 रूपये की प्रोत्साहन राशि मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत देने का निर्णय लिया है।  पंजीकृत किसानों को 265 रूपये की इस प्रोत्साहन राशि का लाभ खरीदी केन्द्रों के साथ-साथ अधिसूचित कृषि उपज मण्डियों में गेहूं का विक्रय करने पर भी मिलेगा। यदि किसान गेहूं की कुछ मात्रा खरीदी केन्द्रों पर तथा शेष मात्रा कृषि उपज मण्डियों में बेचते हैं तब भी यह प्रोत्साहन राशि उन्हें दी जायेगी।  यहां तक कि मण्डियों में समर्थन मूल्य से अधिक कीमत मिलने पर भी किसानों को मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि किसानों के खाते में अंतरित की जायेगी।  प्रोत्साहन राशि का लाभ ई-उपार्जन व्यवस्था के तहत पंजीकृत किसानों को ही मिलेगा।
(11 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2018मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2627282930311
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
30123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer