समाचार
|| पं. खुशीलाल शर्मा आयुर्वेद महाविद्यालय में नि:शुल्क वमन शिविर आज से || सामूहिक विवाह समारोह 24 फरवरी को || एक समूह की मदिरा दुकान का निष्पादन एक मार्च को किया जायेगा || पेयजल संबंधी बैठक 21 फरवरी को || सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों को तत्परता पूवर्क निराकृत करें - कलेक्टर || विन्ध्य महोत्सव में दिखेगी विन्ध्य विरासत की झलक || शिकायतों का निराकरण समय-सीमा में करें – कलेक्टर || समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए किसानों का पंजीयन अब 22 फरवरी तक || गर्भवती महिलाओं को मिलेगी प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना से सहायता || खण्ड स्तरीय अन्त्योदय मेला 21 फरवरी को
अन्य ख़बरें
10 फरवरी से 30 अप्रैल तक ध्वनि विस्तारक यंत्रों पर प्रतिबंध
-
आगर-मालवा | 13-फरवरी-2018
   अनुविभागीय दण्डाधिकारी आगर-बड़ौद श्री महेन्द्र सिंह कवचे ने मध्यप्रदेश कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए अनुभाग क्षैत्र में वार्षिक परीक्षाओं के मद्देनजर ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग को नियंत्रित करने हेतु प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया है।
   जारी प्रतिबंधात्मक आदेशानुसार हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी परीक्षाओं सहित विश्वविद्यालयीन परीक्षाओं तथा ध्वनि प्रदूषण से जनसामान्य के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव को दृष्टिगत रखते हुए ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग पर 10 फरवरी से 30 अप्रैल 2018 तक की अवधि के लिये प्रतिबंध लगाया है। प्रतिबंध अवधि के दौरान कोई भी व्यक्ति/संगठन ध्वनि विस्तारक यंत्रों एवं लोक सम्बोधन प्रणाली का उपयोग इत्यादि समक्ष विहित प्राधिकारी की लिखित अनुमति के बिना किसी भी स्थान या वाहन पर ध्वनि विस्तारक यंत्रों का प्रयोग नहीं करेगा। चिकित्सालय/नर्सिंगहोम, टेलिफोन एक्सचेंज, न्यायालय शिक्षण संस्थाए, स्थानीय प्राधिकरण, के कार्यालयों तथा बैंक परिसर से 100 मीटर की परिधि में ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग नहीं किया जा सकेगा। रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक ध्वनि विस्तारक यंत्रों के उपयोग की अनुमति किसी भी परिस्थिति में नहीं दी जाएगी। किसी कार्यक्रम विशेष में 2 घंटे से अधिक अवधि के लिये ध्वनि विस्तारक यंत्रों के प्रयोग की अनुमति नहीं दी जाएगी।
   जारी आदेशानुसार किसी भी व्यक्ति, संगठन, समूह, राजनैतिक-दल इत्यादि को आवश्यकतानुसार प्रतिबंधित सहित प्रातः 6 बजे से 10 बजे तक बन्द ध्वनि के साथ प्रसारण की अनुमति प्रदान की जा सकेगी। इसके लिये यथा समय-समय विहित प्राधिकारी को सम्पूर्ण विवरण सहित आवेदन पत्र प्रस्तुत करना होगा। अनुमति प्रदान करने एवं तद्संबंधित अन्य कार्य करने हेतु तहसीलदार एवं कार्यपालिक मजिस्ट्रेट आगर, बड़ौद, नायब तहसीलदार एवं कार्यपालिक मजिस्ट्रेट कानड़ विहित प्राधिकारी रहेंगे। अनुविभागीय दण्डाधिकारी ने प्रतिबंधात्मक आदेश में स्पष्ट किया है कि तद्संबंधित अधिनियम/नियम का उल्लंघन करने अथवा अनुमति की निर्धारित अवधि व्यतीत होने के पश्चात् लाउड स्पीकर/ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग करने पर जप्त कर त्रुटीकर्ता के विरूद्ध अभियोजन की कार्यवाही की जाएगी। अधिनियम की धारा-16 के अन्तर्गत हेड कास्टेबल या उनसे वरिष्ठ पुलिस अधिकारी बिना अनुमति उपयोग में लाये जाने वाले उपकरण/सामग्री अधिग्रहित कर सकेंगे। आदेश का उल्लंघन होने पर मध्यप्रदेश कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 की धारा 15 व IPC की धारा 188 के तहत् कार्यवाही की जाएगी।  
 
(6 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जनवरीफरवरी 2018मार्च
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
2627281234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer