समाचार
|| हज-2018 के लिए 4432 सीट का हुआ कम्प्यूटरीकृत कुरआ || वन अधिकार पट्टेधारकों को मिलेगा भावांतर भुगतान योजना का लाभ || नेशनल लोक अदालत का आयोजन 10 फरवरी को || बिजली पंचायत शिविर आज इन ग्रामों में लगेगी || वेतन निर्धारण अनुमोदन के लिये जिला कोषालय अधिकारी भी अधिकृत || कलेक्टर डॉ. शर्मा ने 4 लाख की आर्थिक सहायता की स्वीकृत || सड़क दुर्घटना में आर्थिक सहायता स्वीकृत || मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन यात्रा हेतु आवेदन आमंत्रित || औद्योगिक क्षेत्र भूखण्ड आवंटन हेतु ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित || जिला आपत्ति निराकरण समिति की बैठक आज
अन्य ख़बरें
राष्ट्रीय कवि मुकेश मोलवा ने पीएससी दे रहे युवाओं से कहा- जहां प्रतिस्पर्धा है, वहां डरपोकों के लिए कोई स्थान नहीं है, साहस रखें
-
बड़वानी | 13-जनवरी-2018
 
 
   महाभारत के युद्ध के समय प्रमुख योद्धाओं द्वारा शंख घोष किया जाता था। यह युद्ध प्रारंभ होने का सूचक होता था। जो कमजोर और कायर होते थे, वे पीछे दुबक जाते थे और जो निर्भीक वीर होते थे वे संघर्ष में आगे रहते थे। जहां स्पर्धा है, वहां केवल साहसियों को सफलता मिलती है। डरपोकों के लिए कोई गुंजाइष नहीं है। आज के दौर में प्रतियोगी परीक्षाएं भी बहुत हिम्मत की अपेक्षा करती है। यदि आपमें ईमानदारी से परिश्रम करने और अनुकूल परिणाम आने तक प्रतीक्षा करने का साहस है, तो आप अवश्य ही सफल होंगे। डर को मन से निकाल दीजिये।
   ये बातें ओज के अखिल भारतीय कवि श्री मुकेश मोलवा ने शहीद भीमा नायक शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, बड़वानी के स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ द्वारा संचालित की जा रही एमपीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा की निःशुल्क प्रशिक्षण कार्यशाला में अभ्यर्थियों को संबोधित करते हुए कहीं। इस अवसर पर उपप्राचार्य डॉ. जे के गुप्ता ने कहा कि हिम्मत की ही कीमत होती है। डॉ. मधुसूदन चौबे ने कहा कि- जीवन में ज्यादा अवसर नहीं होते और इम्तहान में डरने के नंबर नहीं होते। श्री मोलवा ने युवाओं को भाषा का महत्व बताते हुए अपनी भाषा को शुद्ध करने के लिए भी प्रेरित किया। संयोजन प्रीति गुलवानिया और सोनिका पाटीदार ने किया। संचालन अंतिम मौर्य ने किया। आभार डॉ.जे के गुप्ता ने किया और मोलवाजी के व्याख्यान को विद्यार्थियों के लिए उपलब्धि बताया। यह आयोजन प्राचार्य डॉ एनएल गुप्ता के मार्गदर्शन में हुआ।
कॅरियर सेल की हुई प्रशंसा
   श्री मुकेश मोलवा ने कॅरियर सेल को विजिट किया तथा कार्यकर्तागण प्रीति गुलवानिया, अंतिम मौर्य, कामिनी पाटीदार, किरण वर्मा, सलोनी शर्मा, रितु बर्फा, पुष्पा धनगर, राधिका शर्मा, रुचिका प्रजापत, संजय सोलंकी, उमेश राठौड़, अरविंद बमनके, लखन प्रजापत, आशीष आदि से भेंट की और उन्हें इसी प्रकार निःस्वार्थ कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया। दस्तावेजों का अवलोकन करके श्री मोलवा ने कॅरियर सेल के कार्यों को नवाचार तथा सृजन से युक्त बताया। लिखित अनुभूति में भी उन्होंने कॅरियर सेल की भूरि भूरि प्रशंसा की।
   सहयोग कोरस गेहलोत, अष्मित भाटिया, अविचल शर्मा ने किया।
(4 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2018फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer