समाचार
|| मध्यप्रदेश विधान सभा की याचिका समिति 18 जनवरी को मंदसौर में (संशोधित दौरा कार्यक्रम) || सौभाग्य योजना से प्राप्त करें विद्युत कनेक्शन || 26 जनवरी को रहेगा शुष्क दिवस || मतदान दिवस के लिए सेंस दल का आग्रह || प्रेरणा संवाद कार्यक्रम "सफलता की कहानी" || शांतिपूर्वक मतदान कराने के लिये समुचित प्रबंध किये गये - कलेक्टर || उद्यमिता अपनायें युवा, समय के अनुसार बदलें सोच || नगर निकाय निर्वाचन के मद्देनजर कार्यपालिक मजिस्ट्रेट नियुक्त || 7 प्रेक्षक रखेंगे मतदान केन्द्रों पर नजर || प्रेक्षक की उपस्थिति में हुआ मतदान पार्टियों के मतदान केन्द्र का निर्धारण
अन्य ख़बरें
भारतीय संस्कृति का परचम संपूर्ण विश्व में लहरा रहा- स्वामी अखिलेश्वरानंद
आत्मीयता से श्रद्वालुओं ने सागर में एकात्म यात्रा का किया भव्य स्वागत
सागर | 05-जनवरी-2018
 
    स्वामी आदि गुरू शंकराचार्य जी के अतुलनीय योगदान के संबंध में तथा ओंकारेश्वर में आदि गुरू शंकराचार्य की 108 फीट ऊंची प्रतिमा के निर्माण हेतु धातु संग्रहण करने तथा जन-जागरण के लिए प्रदेश भर में एकात्म यात्रा आरंभ की गई है। प्रदेश के चार स्थानों ओंकारेश्वर, पचमठा, उज्जैन एवं अमरकंटक से निकली है। दमोह जिले के पथरिया तहसील से यात्रा सागर जिले के घोघरा में प्रवेश की। इस अवसर पर स्वामी अखिलेश्वरानंद एवं साधु-संत भी यात्रा के साथ थे। घोघरा में हर्षोल्लास के साथ स्वागत करने पर यह यात्रा गढ़ाकोटा पहुंची जहां जनसंवाद का कार्यक्रम आयोजित किया गया। एकात्म यात्रा परसोरिया, मकरोनिया चौराहा, कठुआ पुल, सिविल लाईन, पीली कोठी होते हुए खेल परिसर कें बाजू वाले मैदान में पहुंची। रास्ते में पड़ने वाले मार्गों में माताओं, बहनों के द्वारा पुष्प वर्षा करते हुए स्वागत किया गया। बैण्ड बाजे के साथ बड़ी धूमधाम से इसे कार्यक्रम स्थल तक लाया गया। प्रतीकात्मक चरण पादुकाओं के स्पर्श के लिए लोगों में काफी उत्साह था। जनसंवाद में स्वामी अखिलेश्वरानंद, विधायक श्री शैलेन्द्र जैन, श्री प्रदीप लारिया, महापौर श्री अभय दरे, श्री अनिल तिवारी एवं जनप्रतिनिधिगण के द्वारा दीप प्रज्जवलन कर चरण पादुका व कन्या पूजन कर जनसंवाद कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया। एकात्म यात्रा के साथ आए धर्मावलम्वियों का स्वागत शॉल व श्रीफल के द्वारा किया गया। जिले में एकात्म यात्रा के प्रथम दिवस पर खेल परिसर के समीप मैदान सागर में स्वामी अखिलेश्वरानंद ने अपने वक्तव्य में कहा कि एकता का भाव हमारी पहचान रही है। हमें हमारी संस्कृति विश्व में सबसे अलग बनाती है। भारत वर्ष आज भी अपने प्राचीन मूल्यों से सुसज्जित है। एकात्म यात्रा के अवसर पर आपने नर्मदा सेवा यात्रा का भी उल्लेख  किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नर्मदा सेवा यात्रा का जो संकल्प लिया था, उसमें वे सफल रहे हैं। नर्मदा एवं आदि गुरू शंकराचार्य के प्रसंग का भी उल्लेख जनसंवाद में किया। मध्यप्रदेश की धरती पर 8 वर्षीय बालक ने तप कर अद्धैत दर्शन का प्रतिपादन किया। उनके इस योगदान के लिये मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के मन में कृतज्ञता का भाव आया और उन्होंने एकात्म यात्रा का संकल्प लिया। आदि गुरू शंकराचार्य के कार्य एवं दर्शन के अविरल प्रवाह को बनाए रखने के लिए इस यात्रा का आयोजन किया जा रहा है। सागर जिले में एकात्म यात्रा के भव्य स्वागत के लिए स्वामी अखिलेश्वरानंद ने जिला प्रशासन एवं जन अभियान परिषद सागर को बधाई भी प्रेषित की। आदि गुरू शंकराचार्य का दर्शन सम्पूर्ण विश्व को भिन्नताओं से परे एक सूत्र में बांधने का दर्शन है। एकात्म यात्रा का संकल्प प्रदेश की सम्पूर्ण जनता का संकल्प है। आदि गुरू शंकराचार्य की प्रतीकात्मक चरण पादुका और ध्वज पताका को देखने के लिए जनसैलाव उमड़ पड़ा। स्वामी अखिलेश्वरानंद ने अपने आशीर्वचनों में बताया कि भारत हमेशा से विश्व गुरू की भूमिका में रहा है। सांस्कृतिक एकता के देवदूत, अद्धैत दर्शन के प्रतिपादक आदि गुरू शंकराचार्य की विशाल प्रतिमा का निर्माण ओंकारेश्वर में किया जाना है। इस हेतु प्रदेश के गांवों की पावन मिट्टी को संग्रहित कर उस स्थल पर रखा जाएगा। इस सांकेतिक धातु संग्रहण एवं जनजागरण अभियान में आपने सभी को सहभागी बनने कहा। साथ ही आदि गुरू शंकराचार्य के प्रखर ज्ञान और साधना के बल से वैदिक धर्म की प्रतिष्ठा का निर्माण हुआ है। चार मठों की स्थापना से उन्होंने भारत को पूर्व से पश्चिम एवं उत्तर से दक्षिण को एकसूत्र में बाधकर सामाजिक समरसता का संदेश दुनिया में गुंजित किया है। समाज में बढ़ रही कुरीतियों को मिटाने के लिये सभी को संकल्प दिलाया। इसके पश्चात् स्कूली छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया गया। धुर्वा बैण्ड द्वारा मध्यप्रदेश गान का संस्कृत में गायन किया।
    इस अवसर पर यात्रा समन्वयक श्री शिव चौबे अध्यक्ष स्टेट माइनिंग कॉर्पोरेशन के द्वारा एकात्म यात्रा एवं आदि गुरू शंकराचार्य के दर्शन एवं जीवन वृतांत का विस्तृत उल्लेख किया। विधायक श्री शैलेन्द्र जैन एवं श्री प्रदीप लारिया द्वारा अपने विचार व्यक्त किये गए। आभार व्यक्त महापौर श्री अभय दरे ने किया। इस अवसर पर राज्य महिला आयोग अध्यक्ष श्रीमती लता वानखेड़े, श्री सुल्तान शेखावत अध्यक्ष श्रमिक विकास बोर्ड, कलेक्टर श्री आलोक कुमार सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री अनुराग वर्मा, जिला पंचायत सीईओ श्री चन्द्रशेखर शुक्ला, सिटी मजिस्ट्रेट श्री अविनाश रावत अन्य अधिकाकरीगण, योगाचार्य श्री विष्णु आर्य, पत्रकार बंधु एवं बड़ी संख्या में श्रृद्वालुजन उपस्थित थे। एकात्म यात्रा ने यहां से गुलाब बाबा मंदिर की ओर प्रस्थान किया। यहां भोजन एवं रात्रि विश्राम करेगी।
 
(11 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2018फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer