समाचार
|| वर्ष 2018 के स्थानीय अवकाश घोषित || प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव आज दमोह पहुंचे || जिला योजना समिति की बैठक 23 को || पिछड़ावर्ग तथा अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री मुद्दीन ने की स्वरोजगार योजनाओं की प्रगति की समीक्षा || विभागीय परामर्श दात्री समिति के पालन प्रतिवेदन लेकर आये || प्रदेश के ग्रामों के लिये प्रेरणा स्त्रोत बना ग्राम नरेला "सफलता की कहानी" || एकात्म यात्रा के संबंध में बैठक आज || डिजिटल इंडिया कैंपेन एवं कैशलेस ट्रांजेक्शन को प्रभावी बनाने हेतु ग्रामवार कार्यशाला का आयोजन आज से || सर्वे कार्य में लापरवाही बरतने पर स्वास्थ्य कार्यकर्ता निलम्बित || कृषक संगोष्ठी आयोजित कर किसानों को दी जा रही आधुनिक तकनीकों की जानकारी
अन्य ख़बरें
जिला चिकित्सालय में शुरु हुई ई-हॉस्पिटल व्यवस्था
विधायक श्री जायसवाल ने किया शुभारंभ
कटनी | 02-दिसम्बर-2017
 
   
   चिकित्सा की दिशा में मरीजों के बेहतर और सुगमता से स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिल सके। इस उद्धेश्य से शनिवार को जिला चिकित्सालय में ई-हॉस्पिटल सुविधा की शुरुआत हुई। जिसका विधिवत् शुभारंभ मुड़वारा विधायक संदीप जायसवाल ने रिबन काटकर किया। इस दौरान उन्होने इस सेवा के जरिये चिकित्सा सेवा में किये गये इस प्रयास को मरीजों के लिये अच्छा प्रयास बताया। जिला चिकित्सालय में ई-हॉस्पिटल के शुभारंभ अवसर पर पूर्व विधायक सुनील मिश्रा, कलेक्टर विशेष गढ़पाले और सीएमएचओ अशोक अवधिया भी मौजूद थे। प्रदेश में इस सॉफ्टवेयर का उपयोग करने वाला कटनी जिला दूसरा जिला होगा, जहां पर ई-हॉस्पिटल सॉफ्टवेयर की व्यवस्था जिला चिकित्सालय में प्रारंभ की गई है।
   शुभारंभ अवसर पर विधायक श्री जायसवाल ने ई-हॉस्पिटल के माध्यम से दी जाने वाले सेवाओं और इससे संबंधित कार्यप्रणाली की जानकारी ली। जिसे डीआईओ प्रफुल्ल श्रीवास्तव ने विस्तार से ई-हॉस्पिटल के बारे में विधायक श्री जायसवाल को बताया। अधिक जानकारी देते हुये श्री श्रीवास्तव ने बताया कि ई-हॉस्पिटल के प्रथम फेज में बाह्य एवं आतंरिक रोगियों को सॉफ्टवेयर के माध्यम से पर्ची उपलब्ध करायी जा रही है।
   उल्लेखनीय है कि डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, भारत सरकार द्वारा ई-हॉस्पिटल सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है। यह सॉफ्टवेयर पूरी तरह से क्लाउड एवं वर्क-फ्लो आधारित है। इससे मरीजों के मेडिकल रिकॉर्ड संधारित किया जायेगा एवं देश के किसी भी शासकीय चिकित्सालय जो कि इस सॉफ्टवेयर से जुड़ा होगा, मरीज के इलाज की पूरी जानकारी देख सकेगा। वहीं इस सॉफ्टवेयर में संधारित मरीजों की मेडिकल हिस्ट्री एक क्लिक पर उपलब्ध होगी।
   ई-हॉस्पिटल के माध्यम से वर्तमान में ओपीडी, आईपीडी, बिलिंग, सोनोग्राफी, एक्सरे, पैथालॉजी, ब्लड बैंक, एनएनसीयू, मैटरनिटी, क्षय रोग और वार्ड एक्टिविटी को जोड़ा गया। है। वहीं इसके माध्यम से पेपरलैस वर्किंग के साथ साथ मॉनीटरिंग और ऑनलाईन रिपोर्टिंग से काम में आसानी होगी। वहीं दवा, उपकरणों समेत फैकल्टी की जानकारी भी सर्वर पर ऑनलाईन उपलब्ध होगी।
 
(13 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2017जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer