समाचार
|| कलेक्टर श्री गोपाल चंद डाड ने ली सभास्थल की तैयारी का लिया जायजा || राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा आज 10 केन्द्रों पर || होली के त्यौहार पर बेटी बचाओं की अलख जगाई जावेगी-कलेक्टर || स्पीच थैरेपी से बालक अब्दुल कादिर की श्रवण शक्ति वापस लौटी (सफलता की कहानी) || जिले में 15 आंगनबाड़ी भवन निर्मित किए जाएंगे || प्रधानमंत्री मृदा स्वास्थ्य कार्ड हेतु 88 ग्रामों में ग्रिड बनाए जाएंगे || हड़हा गांव के ग्रामीणों का आवास का सपना हुआ पूरा (सफलता की कहानी) || जिला स्तर पर न्यूनतम 24 फसल कटाई प्रयोग किए जाएंगे || फसल कटाई प्रयोग में स्मार्ट फोन आधारित फसल कटाई प्रयोग किया जाएगा || मदरसो का ऑनलाइन पंजीयन 28 फरवरी तक किया जाएगा
अन्य ख़बरें
जिला चिकित्सालय में शुरु हुई ई-हॉस्पिटल व्यवस्था
विधायक श्री जायसवाल ने किया शुभारंभ
कटनी | 02-दिसम्बर-2017
 
   
   चिकित्सा की दिशा में मरीजों के बेहतर और सुगमता से स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिल सके। इस उद्धेश्य से शनिवार को जिला चिकित्सालय में ई-हॉस्पिटल सुविधा की शुरुआत हुई। जिसका विधिवत् शुभारंभ मुड़वारा विधायक संदीप जायसवाल ने रिबन काटकर किया। इस दौरान उन्होने इस सेवा के जरिये चिकित्सा सेवा में किये गये इस प्रयास को मरीजों के लिये अच्छा प्रयास बताया। जिला चिकित्सालय में ई-हॉस्पिटल के शुभारंभ अवसर पर पूर्व विधायक सुनील मिश्रा, कलेक्टर विशेष गढ़पाले और सीएमएचओ अशोक अवधिया भी मौजूद थे। प्रदेश में इस सॉफ्टवेयर का उपयोग करने वाला कटनी जिला दूसरा जिला होगा, जहां पर ई-हॉस्पिटल सॉफ्टवेयर की व्यवस्था जिला चिकित्सालय में प्रारंभ की गई है।
   शुभारंभ अवसर पर विधायक श्री जायसवाल ने ई-हॉस्पिटल के माध्यम से दी जाने वाले सेवाओं और इससे संबंधित कार्यप्रणाली की जानकारी ली। जिसे डीआईओ प्रफुल्ल श्रीवास्तव ने विस्तार से ई-हॉस्पिटल के बारे में विधायक श्री जायसवाल को बताया। अधिक जानकारी देते हुये श्री श्रीवास्तव ने बताया कि ई-हॉस्पिटल के प्रथम फेज में बाह्य एवं आतंरिक रोगियों को सॉफ्टवेयर के माध्यम से पर्ची उपलब्ध करायी जा रही है।
   उल्लेखनीय है कि डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, भारत सरकार द्वारा ई-हॉस्पिटल सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है। यह सॉफ्टवेयर पूरी तरह से क्लाउड एवं वर्क-फ्लो आधारित है। इससे मरीजों के मेडिकल रिकॉर्ड संधारित किया जायेगा एवं देश के किसी भी शासकीय चिकित्सालय जो कि इस सॉफ्टवेयर से जुड़ा होगा, मरीज के इलाज की पूरी जानकारी देख सकेगा। वहीं इस सॉफ्टवेयर में संधारित मरीजों की मेडिकल हिस्ट्री एक क्लिक पर उपलब्ध होगी।
   ई-हॉस्पिटल के माध्यम से वर्तमान में ओपीडी, आईपीडी, बिलिंग, सोनोग्राफी, एक्सरे, पैथालॉजी, ब्लड बैंक, एनएनसीयू, मैटरनिटी, क्षय रोग और वार्ड एक्टिविटी को जोड़ा गया। है। वहीं इसके माध्यम से पेपरलैस वर्किंग के साथ साथ मॉनीटरिंग और ऑनलाईन रिपोर्टिंग से काम में आसानी होगी। वहीं दवा, उपकरणों समेत फैकल्टी की जानकारी भी सर्वर पर ऑनलाईन उपलब्ध होगी।
 
(77 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जनवरीफरवरी 2018मार्च
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
2627281234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer