समाचार
|| वर्ष 2018 के स्थानीय अवकाश घोषित || प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव आज दमोह पहुंचे || जिला योजना समिति की बैठक 23 को || पिछड़ावर्ग तथा अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम के उपाध्यक्ष श्री मुद्दीन ने की स्वरोजगार योजनाओं की प्रगति की समीक्षा || विभागीय परामर्श दात्री समिति के पालन प्रतिवेदन लेकर आये || प्रदेश के ग्रामों के लिये प्रेरणा स्त्रोत बना ग्राम नरेला "सफलता की कहानी" || एकात्म यात्रा के संबंध में बैठक आज || डिजिटल इंडिया कैंपेन एवं कैशलेस ट्रांजेक्शन को प्रभावी बनाने हेतु ग्रामवार कार्यशाला का आयोजन आज से || सर्वे कार्य में लापरवाही बरतने पर स्वास्थ्य कार्यकर्ता निलम्बित || कृषक संगोष्ठी आयोजित कर किसानों को दी जा रही आधुनिक तकनीकों की जानकारी
अन्य ख़बरें
मुख्यमंत्री स्वरोजगार, कौशल सम्मेलन एवं जिला स्तरीय रोजगार मेला सम्पन्न
मेले में लाभान्वित हुए 662 हितग्राही, लाभ हानि का आकलन कर पूरी तन्मयता से व्यवसाय से जुड़े - सांसद श्री ज्ञान सिंह
उमरिया | 02-दिसम्बर-2017
 
   मुख्यमंत्री स्वरोजगार, कौशल सम्मेलन एवं जिला स्तरीय रोजगार मेले में 402 हितग्राहियों को 6 करोड 22 लाख का हितलाभ तथा विभिन्न निजी कंपनियों द्वारा 260 बेरोजगारों को रोजगार हेतु चयन किया गया है। शहडोल संसदीय क्षेत्र के सासंद श्री ज्ञान सिंह ने मुख्य अतिथि के रूप में हितग्राहियों को प्रतीक स्वरूप लाभ वितरित करते हुए कहा कि यह मेला बेरोजगारों एवं हितग्राहियों के लिए मील का पत्थर साबित हुआ है। उन्होने कहा कि जिस उद्योग एवं व्यवसाय हेतु ऋण स्वीकृत किया गया है। उस कार्य को लगन, निष्ठा, ईमानदारी से कर माली हालत में सुधार लाये। बेरोजगार रोजगार के लिए हाथ नही फैलाएं बल्कि देने लायक बने तभी सार्थकता सिद्ध होगी।
   सांसद श्री ज्ञान सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ, पीथमपुर, जबलपुर, अनूपपुर सहित अन्य स्थानों से रोजगार देने हेतु आईं कंपनियों ने जिन 260 लोगों का चयन किया है वे सभी घर, परिवार का मोह छोड़कर पूरी तन्मयता से कार्य कर तरक्की के आयाम को छुए और बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाने का संकल्प लें। श्री सिंह ने कहा कि छोटे-छोटे लघु एवं कुटीर उद्योग के जरिये महिलाएं सशक्त होगी। आधुनिक युग में परिवार के हर सदस्य को बराबरी से कार्य करने की जरूरत है तभी हम विकास रूपी गंगा को बहाने में सफल साबित होगे। सांसद श्री सिंह ने कहा कि हितग्राही व्यवसाय स्थापित करते समय लाभ हानि का आकलन जरूर करे और पूरी ईमानदारी एवं तनमयता से जुटे।
   इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य मौजीलाल चौधरी, एसडीएम बांधवगढ ऋषि पवार शंभूलाल खट्टर, नरेंद्र गिरी, सहायक आयुक्त आदिम जाति,  जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी, जिला आबकारी अधिकारी सहित अन्य जिला अधिकारी उपस्थित रहे।
   कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए मानपुर विधायक सुश्री मीना सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री की परिकल्पना को साकार रूप देने के लिए जिला स्तरीय रोजगार मेला आयोजित किया गया है, इसमें पुरूष एवं महिलाओं की सक्रिय भागीदारी से रोजगार के अवसर सुलभ होंगे। उन्होंने कहा कि महिलाओ को सशक्त करने के लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह मदद कर रही है। वहीं बेरोजगारों को बैकों से ऋण देने की गारंटी भी ले रही है। जरूरत है कि लघु एवं कुटीर उद्योग स्थापित करने हेतु आगें बढ़े और नौकरी की तलाश छोड़े बल्कि देने लायक बने।
   इस अवसर पर कलेक्टर श्री माल सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, आर्थिक कल्याण योजना, मुख्यमंत्री उद्यमी योजना, प्रधानमंत्री सृजन योजना के माध्यम से बेरोजगारों को रोजगार एवं स्वरोजगार देने की विशेष पहल की गई है। उसी का परिणाम है कि जिले में कई ऐसे उद्यमी स्वरोजगार स्थापित कर लाभ कमा रहे है और दूसरों को रोजगार भी सुलभ करा रहे है।  मेले में विभिन्न स्थानो से जो कंपनियां बेरोजगारों के चयन के लिए आई है उनसे अपेक्षा की है कि वे सभी चयनित बेरोजगारों को अपने संस्थान में बेहतर सुविधाएं देकर उन्हें सक्षम बनाये।
   इस मौके पर महाप्रबंधक जिला उद्योग एवं व्यापार श्री विजयकांत शुक्ला ने कहा कि बेरोजगारों को स्वरोजगार से जोडने की प्रेरणा देने तथा रोजगार उपलब्ध कराने के लिए कंपनियों को आमंत्रित किया गया है, इसमें चयनित बेरोजगार जहां एक ओर रोजगार से जुडकर अपने परिवार को खुशहाली के पायदान पर लायेगे वहीं अपने कार्य कौशल के माध्यम से उमरिया का नाम रोशन करेंगे।  
   कार्यक्रम में सीईओ जिला पंचायत नवीत धुर्वे एवं औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था प्रभात वर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार लघु एवं कुटीर उद्योग का जाल बिछाकर हर बेरोजगारों को रोजगार देने की परिकल्पना की है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कौशल्या योजना, महिलाओं के लिए वरदान साबित हो रही है, इसके तहत महिलाओ को 15 दिन से लेकर 9 माह तक का प्रशिक्षण देकर उन्हें स्वरोजगार स्थापित करने के लिए अभियान चलाया है, जिसके सार्थक परिणाम सामने आ रहै है।
मेले मे 402 हितग्राहियों को 622 लाख का वितरित हुआ हितलाभ
260 बेरोजगारों को मिला रोजगार
   मुख्यमंत्री स्वरोजगार, कौशल सम्मेलन एवं जिला स्तरीय रोजगार मेले में विभिन्न विभागों के तहत मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना तथा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत 402 हितग्राहियों को लाभान्वित करते हुए 622 लाख रूपये का हितलाभ वितरित किया गया।
   रोजगार मेले में एस एन जी प्रायवेट लिमिटेड बिलासपुर, शिव शक्ति बायोटेक्निक जबलपुर, खुशहाल किसान बिलासपुर, रिलायंस लाइफ इंशोरेंस उमरिया, वर्धमानयांस मण्डीदीप भोपाल, सिक्योरिटी गार्ड अनपूपुर, नर्मदा एग्रो जबलपुर की कंपनियों ने जिलेके 260 बेरोजगारों को उनकी योग्यता के आधार पर रोजगार हेतु चयन किया है। इन बेरोजगारो को 6 हजार से लेकर 10 हजार तक प्रति माह भगतान मिलेगा।  मेले में चयनित हितग्राहियों के चेहरों में उस समय रौनकता दिखाई दी जब उनका चयन कंपनियों में होने की सूचना दी गई।
   सांसद श्री ज्ञान सिंह एवं विधायक सुश्री मीना सिंह पांच दिव्यांगों को लाभान्वित किया जिसमें सोनम सिंह, कोदूलाल गुप्ता, राम किशोर शुक्ला को ट्रायसिकल, वेदांत मिश्रा को व्हीलचेयर तथा राहुल को वाकर देकर उन्हें चलने लायक बनाया।  
   कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सांसद ज्ञान सिंह ने पवन तिवारी एवं रेवा तिवारी को प्रतीक स्वरूप नियुक्ति पत्र भी वितरित किया।
सफल उद्यमियो से प्रेरित हुए बेरोजगार
   रोजगार मेले में सफल उद्यमियों द्वारा तैयार किए गए उत्पादों का प्रदर्षन किया गया जिसमें फ्लाईब्रिक्स, शर्ट निर्माण, वाशिंग पाउडर, नेल पेंट, आटा, आरोवाटर, मिट्टी के खिलौने तथा आईटीआई के विद्यार्थियों द्वारा तैयार किए गए वेल्डिंग उत्पाद एवं विद्युत मशीनरी का प्रदर्शन किया गया। इन प्रदर्शनों का अवलोकन करते हुए अतिथियों ने उत्पादतकों का हौसला अफजाई किया साथ ही उन्हें प्रशंसा पत्र भी प्रदाय किया गया।
बेरोजगारों के लिए प्रेरणा का स्रोत बनी विभागीय प्रदर्शनियां
   स्वरोजगार, कौशल सम्मेलन एवं रोजगार मेले में जनसंपर्क विभाग द्वारा फोटो एवं विकास प्रदर्षनी आयोजित की गई। इस दौरान आगे आए लाभ लाभ उठाये, लोक सेवा गारंटी, सपनों की उंची उडान, लाडली लक्ष्मी, मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, मेधावी छात्रवृत्ति योजना, पिछड़ा वर्ग एवं अल्प संख्यक समुदाय की प्री एवं पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना, प्रधानमंत्री फसल योजना सहित अन्य योजनाओ की ब्रोसर, पंपलेट एवं फोल्डर वितरित किए गए।
   इसी प्रकार महिला बाल विकास, जिला महिला सशक्तिकरण, नगर पालिका परिषद, वन मण्डल, उद्यानिकी, पशु, चिकित्सा विभाग, मत्स्य पालन, आयुष, जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र, कृषि विभाग, औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, आदिम जाति कल्याण, पिछड़ा वर्ग, जिला पंचायत, आरसेटी, अन्त्यावसायी, सामाजिक न्याय विभाग द्वारा विभागीय योजनाओं की फोटो एवं विकास प्रदर्षनी आयोजित कर हितग्राहियों, बेरोजगारों एवं उपस्थित ग्रामीणों को विभिन्न योजनाओं के प्रति आकर्षित किया। इस दौरान उपस्थित विभागीय अधिकारियो ने जहां एक ओर योजनाओं की सहज सरल भाषा मे जानकारी दी वही लाभ लेने के लिए आगे आने की सलाह भी दी।
 
(13 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2017जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer