समाचार
|| मराठी फिल्म उद्योग की तरह जल्द विकसित होगा बुंदेली फिल्म उद्योग : रोहणी || बीईजी सेंटर रूरकी में सैनिकों की पेंशन अदालत 30 मई को || जेल में महिला बंदियों के लिये प्रशिक्षण कार्यक्रम जारी || आंगनवाड़ी कार्यकर्ता महिलाओं को जागरूक कर घरेलू हिंसा को रोक सकती है: डॉ. सुभाष जैन || मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन यात्रा हेतु आवेदन आमंत्रित || रूक जाना नहीं योजना की परीक्षा 9 जून से || विश्व तम्बाकू एवं धूम्रपान निषेध दिवस 31 मई को || 30 मई को किया जाएगा फोटोयुक्त मतदाता सूची का प्रकाशन || समर्थन मूल्य पर चना, मसूर, सरसों की खरीदी 9 जून तक रहेगी जारी || रोजगार मेला 28 जून को
अन्य ख़बरें
दो दिवसीय सांची महोत्सव का शुभारंभ
बौद्ध अनुयायी एवं पर्यटकों के आने का सिलसिला जारी
रायसेन | 25-नवम्बर-2017
 
   विश्व पर्यटन एवं बौद्ध अनुयायियों के तीर्थ स्थल सांची में 65वां बौद्ध महोत्सव आज सुबह 7 बजे भगवान बुद्ध के शिष्य सारिपुत्र और महामोदग्लायन के अस्थि कलश पूजन के साथ प्रारंभ हुआ। अस्थि पूजन के लिए बड़ी संख्या मे श्रीलंका, जापान, भूटान, ताईवान, चीन तथा थाईलैण्ड सहित कई देशों से आए बौद्ध अनुयायी पारंपरित ढोल नगाड़ों के साथ महाबोधि सोयायटी से स्तूप परिसर में स्थित बुद्ध मंदिर पहुंचे।
   स्तूप परिसर स्थित मंदिर में प्रातः 07 बजे श्रीलंका महाबोधी सोसायटी के अध्यक्ष श्री वानगल उपतिस्स नायक थेरो तथा उनके शिष्यों द्वारा महात्मा बुद्ध के शिष्य महामोदग्लायन एवं सारिपुत्र की पवित्र अस्थियों की पूजा कर दर्शन के लिए रखा गया। इन पवित्र अस्थियों को तलघर से लाते समय जिला प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे। महोत्सव के दोनों दिन संस्कृति विभाग द्वारा भगवान बुद्ध पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। महाबोधी महोत्सव में देश-विदेश से धर्माबलम्बियों का आना निरंतर जारी है।
25 नवम्बर को होने वाले कार्यक्रम
   संस्कृति विभाग द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाले कार्यक्रमों में महोत्सव के पहले दिन 25 नवम्बर को श्री संजय उपाध्याय भोपाल के निर्देशन में तीसरा मंतर बौद्ध ज्ञान कथा का नृत्य-नाट्य-प्रदर्शन होगा तथा श्रीरजत कलायत्रे श्रीलंका नृत्य गीत बुद्ध आधारित प्रस्तुति असुरनाद कला फाउण्डेशन द्वारा दी जाएगी।
26 नवम्बर को होने वाले कार्यक्रम
   महोत्सव के दूसरे दिन 26 नवम्बर को निर्देशक श्री अशोक जाम्बुलकर के द्वारा भगवान बुद्ध की जीवन कथा पर आधारित नाट्य  अंगुलिमाल प्रस्तुति ध्यान धम्म बहुउद्देशीय विकास संस्था नागपुर द्वारा दी जाएगी।
   इसके साथ ही अखिल भारतीय कवि सम्मेलन भी आयोजित होगा जिसमें सर्व श्री डॉ. सुरेश अवस्थी-कानपुर, मदन मोहन समर-भोपाल, अतुल ज्वाला-इन्दौर, सुश्री प्रियंका राय-बनारस, सुश्री वैशाली शुक्ला-उज्जैन, पुष्पक देशमुख-बैतूल तथा कौशल सक्सेना-देवनगर शामिल होंगे। सांस्कृतिक कार्यक्रम शाम 7 बजे आयोजित किये जाएंगे।
कार्यक्रम में शामिल होने वाले मुख्य अतिथि
   सांची महाबोधी महोत्सव के अंतर्गत आयोजित कार्यक्रम में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, श्रीलंका के भारत में उच्चायुक्त महामहिम श्रीमती चित्रांगे वागीसवर, मुख्य विहाराधिपति होसनजी मंदिर जापान श्री ताकाहाशि केन्सेई, शंघाई जिंगान मंदिर चीन की प्रतिनिधि डॉ. सुश्री हाइयान शेन सहित वियतनाम संघ एवं उपासक प्रतिमंडल मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे।
(181 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2018जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
30123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer