समाचार
|| किसान भाई उद्यानिकी का मौसम आधारित फसल बीमा का उठाएं लाभ || कार्ययोजन में जनप्रतिनिधियों से प्राप्त आवेदन पत्रो को करे सम्मलितः-कलेक्टर || जिलें में रोजगार मेले का आयोजन 22 नवम्बर को || बंद कन्टेनर में ही कोयले का करे परिवहन:- कलेक्टर || प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवासहीन हितग्राहियों को कराया गृह प्रवेश || पुरूष नसबंदी पखवाड़ा 21 नवम्बर से || विक्टोरिया अस्पताल में नेत्र रोग निदान शिविर आज || राष्ट्रीय सफाई कामगार आयोग के सदस्य श्री हाथीबेड़ का आगमन 22 को || नर्स के पद पर भर्ती हेतु रिक्रूटमेंट ड्राइव 22 को || राज्य खाद्य आयोग के अध्यक्ष श्री स्वाई 24 को करेंगे
अन्य ख़बरें
विस्थापितों को मूल सुविधा उपलब्ध कराना मेरी पहली प्राथमिकता- कलेक्टर
मुहेर गांव के विस्थापितों से रूबरू हुए श्री चौधरी
सिंगरौली | 05-नवम्बर-2017
 
   
    विस्थापितों सहित यहां के अन्य मोहल्लावासियों को मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराना मेरी पहली प्राथमिकताओं में से है। उक्ताशय का वक्तव्य कलेक्टर श्री अनुराग चौधरी के द्वारा आज नगर निगम क्षेत्र में स्थित ग्राम मुहेर पहुंचकर वहां के विस्थापितों एवं आम नागरिकों की समस्याओं के दौरान व्यक्त किया।
    विदित हो कि कलेक्टर श्री चौधरी के द्वारा ग्राम मुहेर में संवाद आयोजित कर मुहेर ग्राम के ऐसे विस्थापित जिनकी भूमियां एवं आवास रिलायंस सहित अमलोरी परियोजना, निगाही परियोजना, गोरबी बी ब्लाक के द्वारा अधिग्रहित की गयी हैं किन्तु अभी भी कई विस्थापित मूल सुविधाओं से वंचित हैं, जिनके समस्याओं को जानने हेतु कलेक्टर के द्वारा एनसीएल,रिलायंस के अधिकारियों के साथ पहुंचकर उनकी समस्याओं को सुना। संवाद के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री प्रियंक मिश्रा, एसडीएम श्री विकास सिंह, तहसीलदार श्री विवेक गुप्ता, कार्यपालन यंत्री व्ही.पी.उपाध्याय, अजीत सिंह बघेल सहित अन्य जिला के अधिकारी उपस्थित रहे।
    विस्थापितों ने अपनी समस्याओं को कलेक्टर को सुनाते हुए कहा कि अभी भी हम लोगों को प्लाट आवंटन नहीं किये गये हैं। साथ ही इस गांव के 12 मोहल्ले हैं एवं लगभग 3 हजार परिवार निवास कर रहा है, कुछ मोहल्ले पूर्ण रूप से कंपनियों में अधिग्रहित किये गये हैं कई मोहल्ले 50 प्रतिशत अधिग्रहण किये गये हैं तथा कुछ शेष हैं जो अधिग्रहण नहीं किया  गया है। इस गांव में पेयजल की अत्यंत समस्या है, साथ ही विद्युत व्यवस्था आजादी के बाद से आज तक नहीं है न ही मुख्य मार्ग को जोडने वाली सड़कें निर्मित की गयी हैं। कलेक्टर के द्वारा उनकी समस्याओं को सुनने के बाद उपस्थित कंपनियों सहित जिला अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि इस गांव में स्टाप डेम सहित इनके मांग अनुसार चार तालाब बनाये जायें साथ ही जो पूर्व से तालाब हैं उनका गहरीकरण भी किया जाय। आगे उन्होंने पेयजल समस्या के निदान हेतु निर्देश दिये कि रिलायंस पावर के द्वारा 10 ट्रिप प्रति दिवस टेंकर के माध्यम से पेयजल दिया जायेगा एवं कोल माइंस में लगी कंपनियां व्हीपीआर तीन दिवस एवं सद्भावना कंपनी तीन दिवस पेजयल उपलब्ध करायेंगे। वहीं नगर निगम प्रत्येक रविवार को 5 टेंकर पानी उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित करें।
15 दिसम्बर तक विद्युतीकरण कार्य करें प्रारंभ
    कलेक्टर के द्वारा कार्यपालन यंत्री विद्युत एवं नगर निगम के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिये कि संयुक्त रूप से जिन मोहल्ला कंपनियों के द्वारा अधिग्रहित नहीं किया गया है वहां विद्युत व्यवस्था का कार्य प्रारंभ करायें तथा सम्मानित जनप्रतिनिधि गणों से भूमि पूजन कराया जाना सुनिश्चित करें। वहीं कंपनियों को निर्देश दिये गये कि अधिग्रहित किये गये मोहल्ले के निवासियों को जब तक विस्थापन कालोनियों में शिफ्ट नहीं किया जाता है तब तक उन्हें संबंधित कंपनियां सोलर लाईट उपलब्ध करावें। कलेक्टर के द्वारा इसके अलावा भी कर्मकार मण्डल में अधिक से अधिक श्रमिकों का पंजीयन कराने के साथ-साथ बच्चों को टीकाकरण शत-प्रतिशत कराये जाने एवं जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक दिये जाने हेतु निर्देश दिया गया। कलेक्टर के द्वारा उपस्थित ग्राम वासियों को संबोधित करते हुए कहा गया कि मेरा आज आने का यही मुख्य उद्देश्य था कि आप सबको मूल सुविधाएं कंपनियां व प्रशासन दें अगर इसके अलावा कोई अन्य समस्या हो तो भी बतायें।
वृद्ध महिला को कलेक्टर दिलायी सहायता राशि
    मुहेर में कलेक्टर के जन संवाद के दौरान एक मुहेर निवासी वृद्ध महिला भगवानी देवी साकेत आयी जहां कलेक्टर से बताया कि मैं वृद्ध हूं और मेरा पैर जल गया है जिससे भरण-पोषण की दिक्कत हो रही है। जहां कलेक्टर ने जन संवाद के दौरान ही वृद्ध महिला को रेड क्रास सोसायटी के माध्यम से 5 हजार रूपये आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। वहीं कलेक्टर ने रिलायंस के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिला मुख्यालय बैढन में 8 नवम्बर को आयोजित होने वाला स्वास्थ्य कैम्प में मुहेर के जो भी व्यक्ति गंभीर  बीमारी से ग्रसित हैं उन्हें कंपनी अपने वाहन के माध्यम से बैढन पहुंचाये और उन्हें ईलाज कराने के बाद उनके घर तक छोड़े। वहीं आगे कलेक्टर ने आगे कहा कि मुहेर वासियों को आने-जाने के लिए काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है जहां कलेक्टर ने नगर पालिक निगम के कार्यपालन यंत्री को निर्देशित किया कि आगामी माह में जो ननि सेवायान बसें चल रही हैं उन्हें अब मुहेर तक चलाया जाय ताकि लोगों को आवागमन की परेशानियों से मुक्ति मिल सके।
(15 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अक्तूबरनवम्बर 2017दिसम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer