समाचार
|| राज्य खाद्य आयोग के अध्यक्ष श्री स्वाई आज करेंगे योजनाओं एवं कार्यक्रमों की संभाग स्तरीय समीक्षा || कलेक्टर ने ली अधिकारियों एवं महाविद्यालयों के प्राचार्यों की बैठक "छात्रसंघ चुनाव" || देवांश पाण्डे की मृत्यु की दण्डाधिकारी जांच के तहत साक्ष्य आमंत्रित || केन्द्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती का आगमन आज || देश की टेक्सटाइल इंडस्ट्री का हब बना मध्यप्रदेश || जैतहरी में संचालित शिशु स्कूल में मुख्यमंत्री को पा कर हर्षित हुए नवनिहाल || मुख्यमंत्री श्री चौहान का हेलीपैड में किया गया स्वागत || मुख्यमंत्री ने किया कन्या पूजन || अन्त्योदय मेले में दी गई हितग्राहीमूलक योजनाओं की जानकारी || जैतहरी में आयोजित विकास यात्रा कार्यक्रम के दौरान 35 सौ हितग्राहियों को 15 करोड़ के मिले हितलाभ
अन्य ख़बरें
समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए उपार्जन केन्द्र प्रभारियों को दिया गया प्रशिक्षण
15 नवंबर से 159 केन्द्रों पर प्रारंभ होगी धान की खरीदी
बालाघाट | 02-नवम्बर-2017
 
  
   किसानों को उनकी उपज का वाजिब दाम दिलाने एवं उन्हें बिचौलियों व दलालों के शोषण से बचाने केलिए प्रदेश शासन ने समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी के व्यापक इंतजाम किये है। किसानों से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी केलिए कुल 159 केन्द्र बनाये गये है और इन केन्द्रों पर आगामी 15 नवंबर 2017 से धान की खरीदी प्रारंभ कर दी जायेगी जो 15 जनवरी 2018 तक चलेगी। समर्थन मूल्य पर शासन के निर्देशों के अनुरूप धान की खरीदी के लिए कलेक्टर श्री डी व्ही सिंह के मार्गदर्शन में आज 02 नवंबर को धान उपार्जन केन्द्रों के प्रभारियों को प्रशिक्षण दिया गया।
   धान उपार्जन केन्द्रों के प्रभारियों को प्रशिक्षण में जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के महाप्रबंधक श्री पी एस धनवाल, जिला आपूर्ति अधिकारी श्री गोविंद दुबे, नागरिक आपूर्ति निगम के जिला प्रबंधक श्री डी एस कटारे, श्री सोनी, भारतीय खाद्य निगम के जिला प्रबंधक श्री एस पी श्रीवास्तव ने धान खरीदी के दौरान रखी जाने वाली सावधानियों एवं तैयारियों के बारे में जानकारी दी। प्रशिक्षण में बताया गया कि किसान से एफएक्यू मापदंड का धान ही खरीदा जाना है। इस मापदंड का खरीदी में कड़ाई से पालन करना है। धान में निर्धारित मात्रा से अधिक नमी, बदरा एवं अशुद्धि नहीं होना चाहिए। सभी केन्द्रों पर एफएक्यू मापदंड के धान के सेम्पल किसानों की जानकारी के लिए उपलब्ध रखा जाये। किसानों से भी कहा जाये कि वे धान को सुखाकर व छन्ने से छानकर ही बिक्री के लिए लायें।
नीले रंग के धागे से होगी बोरों की सिलाई
   प्रशिक्षण में बताया गया कि किसानों से खरीदी गई धान का कांटा हो जाने के बाद बोरी को नीले रंग के धागे से ही सिलाई करना है। बोरी पर लगने वाला छापा भी नीले रंग का ही होगा। इस बार धान की खरीदी नये व पुराने बारदानों में की जाना है, अत: खरीदी के दौरान पूरी सावधानी बरती जाये। शासन द्वारा मोटे धान का समर्थन मूल्य 1550 रुपये प्रति क्विंटल एवं पतले फाईन धान का समर्थन मूल्य 1590 रुपये प्रति क्विंटल तय किया गया है। किसानों से धान की खरीदी 15 नवंबर 2017 से प्रारंभ करना है जो 15 जनवरी 2018 तक चलेगी। इस वर्ष जिले 3 लाख 60 हजार मिट्रिक टन धान समर्थन मूल्य पर खरीदी करने का लक्ष्य रखा गया है। समर्थन्‍मूल्य पर धान की खरीदी केवल पंजीकृत किसानों से ही करना है। जिले में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी के लिए एक लाख 02 हजार किसानों का पंजीयन किया गया है।  
   प्रशिक्षण में बताया गयाकि धान का तौल हो जाने पर किसानों को तत्काल कम्‍प्यूटर से पर्ची निकाल कर देना है। जिसमें किसान का नाम, धान की मात्रा एवं राशि का विवरण होगा। केन्द्र प्रभारियों को समर्थन मूल्य पर खरीदी गई धान के उठाव पर भी निगरानी रखना है।
(21 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अक्तूबरनवम्बर 2017दिसम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer