समाचार
|| स्वास्थ्य कार्यक्रमों के प्रभावी क्रियान्वयन पर बल दिया || प्रभारी मंत्री श्री रामपाल सिंह द्वारा सांईखेड़ा में नवीन तहसील व शासकीय महाविद्यालय का शुभारंभ || किसान भाई उद्यानिकी का मौसम आधारित फसल बीमा का उठाएं लाभ || कार्ययोजन में जनप्रतिनिधियों से प्राप्त आवेदन पत्रो को करे सम्मिलित : कलेक्टर || जिले में रोजगार मेले का आयोजन 22 नवम्बर को || बंद कन्टेनर में ही कोयले का करे परिवहन : कलेक्टर || प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवासहीन हितग्राहियों को कराया गृह प्रवेश || पुरूष नसबंदी पखवाड़ा 21 नवम्बर से || विक्टोरिया अस्पताल में नेत्र रोग निदान शिविर आज || राष्ट्रीय सफाई कामगार आयोग के सदस्य श्री हाथीबेड़ का आगमन 22 को
अन्य ख़बरें
हर व्यक्ति सामाजिक विकृतियों को दूर करने का संकल्प लें-मंत्री श्री राजेंद्र शुक्ल
-
शहडोल | 07-सितम्बर-2017
 
 
    मध्यप्रदेश शासन के खनिज साधन, उद्योग एवं व्यापार मंत्री एवं शहडोल जिले के प्रभारी मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा है कि समाज का हर व्यक्ति गरीबी, गंदगी, भ्रष्टाचार, जातिवाद, साम्प्रदायिकतावाद और आतंकवाद जैसी सामाजिक विकृतियों को मुक्त करने का संकल्प लेकर सामाजिक विकृतियों को दूर करने के लिये आगे बढ़कर प्रयास करें। प्रभारी मंत्री ने कहा है कि गरीबी, गंदगी, भ्रष्टाचार, जातिवाद, साम्प्रदायिकतावाद और आतंकवाद जैसी सामाजिक कुरीतियों को समूल नष्ट करना आज की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि समाज के किसी भी व्यक्ति को इन समस्याओं के प्रति तटस्थ रहने का अधिकार नहीं है। उन्होने कहा कि देश हमें सबकुछ देता है, हमें भी कुछ देना चाहिए, इस विचार को अंगीकार करते हुये हमें सामाजिक कुरीतियों के विरूद्ध लड़ने के लिये निरंतर संघर्ष करने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि संकल्प में बड़ी ताकत होती है, अगर हम कृतसंकल्पित होकर गंदगी, गरीबी, भ्रष्टाचार, जातिवाद, साम्प्रदायिकतावाद और आतंकवाद के विरूद्ध लड़ने का प्रयास करेंगे तो निःसंदेह हमें शीघ्र ही सफलता मिलेगी। उन्होने कहा कि आज सभी नागरिकों का कर्त्तव्य है कि वे सामाजिक कुरीतियों और विकृतियों को दूर करने के लिये एकजुट होकर प्रयास करें। खनिज संसाधन, उद्योग और व्यापार मंत्री श्री राजेंद्र शुक्ल आज मानस भवन शहडोल में जनअभियान परिषद के सौजन्य से आयोजित संकल्प से सिद्धि अभियान के अंतर्गत स्वैच्छिक संगठनों के जिला स्तरीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन का शुभारंभ प्रभारी मंत्री द्वारा मॉं सरस्वती के छाया चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया। प्रभारी मंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार, जातिवाद, साम्प्रदायिकदावाद, आतंकवाद जैसी समाज में व्याप्त विकृतियां हमारी आने वाली पीढ़ी के भविष्य को बर्बाद कर सकती हैं। समाज से इन विकृतियों को समूल रूप से दूर करने के लिये प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गंदगी, गरीबी, भ्रष्टाचार, जातिवाद, साम्प्रदायिकतावाद और आतंकवाद से मुक्त भारत की कल्पना की है। उन्होने कहा कि इन विकृतियों को दूर करने के लिये प्रधानमंत्री ने मशाल थामी है। उन्होने कहा कि समाज और देश के हर नागरिक का यह कर्त्तव्य है कि सभी नागरिक अच्छे विचारों को अपनाकर श्रमशील बनकर देश को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दे। उन्होने कहा कि देश से सामाजिक विकृतियों को दूर करने के लिये संकल्पित होकर संवेदनाओं को जागृत करने की आवश्यकता है तथा देश के लिये तन, मन, जीवन समर्पित करने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि गरीबी दूर करने के लिये देश में कई अभिनव योजनाएं संचालित की जा रही है, किंतु इन योजनाओं के क्रियान्वयन की चुनौती प्रशासन और समाज दोनो के समक्ष है। उन्होने कहा कि योजनाओं के सफल क्रियान्वयन में प्रशासन के साथ-साथ समाज की भी जिम्मेदारी है, गरीब और कमजोर तबके के लोगों के लिये संचालित योजनाओं का लाभ पात्र लोगों तक पहुंचाना भी समाज के लोगों की जिम्मेदारी है। उन्होने कहा कि योजनाआंे का लाभ जरूरतमंद लोगों को दिलाने के लिये हमें संकल्प लेना होगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा किये गये आर्थिक सुधारों से देश की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी, अधोसंरचना का विकास होगा, हमारी विकास दर बढ़ेगी, सिंचाई का रकवा बढेगा जिससे देश का तेजी से विकास होगा। उन्होने कहा कि देश और प्रदेश को बदलने के लिये प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री द्वारा भागीरथी प्रयास किये जा रहे हैं। गरीबों के लिये मकान बनाये जा रहे हैं, गरीब और कमजोर तबके के लोगों को सस्ते दरों पर खाद्यान्न मुहैया कराया जा रहा है। प्रधानमत्री धनजन योजना, प्रधानमंत्री बीमा योजना जैसी अभिनव योजनाएं देश में संचालित की जा रही है, जिसका सीधा लाभ लोगों को मिल रहा है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि गरीबी के कलंक को मिटाने के लिये हम निरंतर प्रयास कर रहे हैं, किंतु इसमें समाज के हर व्यक्ति को अहम भूमिका निभाने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि गरीबी और गंदगी मिटाने में समाज की भी अहम भूमिका है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि हमे सामाजिक विकृतियों को दूर करने के लिये पूरी शक्ति से कृत संकल्पित होकर प्रयास करने की आवश्यकता है। सम्मेलन को संबोधित करते हुये विधायक श्री जयसिंह मरावी ने कहा कि हमें देश के विकास के लिये संकीर्ण विचारधारा को दूर करना होगा, गरीबी, गंदबी, जातिवाद, भ्रष्टाचार, साम्प्रदायिकतावाद, आतंकवाद जैसी विकृतियों के विरूद्ध एकजुट होकर संघर्ष करना होगा। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री ने गरीबी, गंदगी और भ्रष्टाचार के विरूद्ध अभियान छेड़ा है, इस अभियान में सभी को एकजुट होकर प्रयास करने होंगें। उन्होने कहा कि देश की सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक विकास के लिये हमें स्वस्थ्य विचारों को अपनाकर आगे बढ़ना होगा, युवा पीढ़ी को अच्छे संस्कार देना होगा और युवाओं को अच्छे विचारों के साथ श्रमशील होकर आगे बढ़ने के लिये निरंतर प्रेरित करना होगा। सम्मेलन को संबोधित करते हुये कुलपति शंभूनाथ विश्वविद्यालय डॉ. मुकेश तिवारी ने कहा कि आतंकवाद, भ्रष्टाचार, गरीबी, गंदगी जैसी विकृतियों को समाप्त करने के लिये कृत संकल्पित होकर आगे बढ़ने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि जब हम सभी कृत संकल्पित होकर आगे बढ़ेंगें तो हमें गंदगी, गरीबी, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, जातिवाद जैसे विकृतियों पर विजय मिलेगी। सम्मेलन को संबोधित करते हुये अध्यक्ष जिला पंचायत श्री नरेंद्र मरावी ने कहा कि देश के विकास के लिये हमें युवा पीढ़ी को संस्कारवान बनाना होगा, युवा पीढ़ी में अच्छे संस्कार पोषित करने होंगे। उन्होने कहा कि अच्छे विचारों और अच्छे संस्कारों से ही हमारा देश आगे बढ़ेगा। अध्यक्ष जिला पंचायत ने कहा कि हमें अच्छे संस्कार सीखने के प्रयास करना चाहिए तथा आने वाली पीढ़ी को अच्छे संस्कारों से पोषित करना चाहिए। सम्मेलन को संबोधित करते हुये अध्यक्ष नगर पालिका श्रीमती उर्मिला कटारे ने कहा कि देश से गंदगी, गरीबी, जातिवाद, आतंकवाद, भ्रष्टाचार आदि को दूर करने के लिये युवा पीढ़ी को जिम्मेदारी लेना होगा। उन्होने कहा कि आज गरीबी, गंदगी, जातिवाद, आतंकवाद, भ्रष्टाचार एवं अन्रू विकृतियों की चुनौती देश के समक्ष है। इनसे मुक्ति के लिये युवा पीढ़ी आगे आकर इन्हें दूर करने के लिये प्रयास करे, चिंतन करे और मनन करे। उन्होने युवाओं से अपील करते हुये कहा कि युवा अच्छे संस्कार सीखें, अच्छे नागरिक बनें और देश की दशा और दिशा को बदलने में अहम भूमिका निभायें। सम्मेलन को संबोधित करते हुये कलेक्टर श्री मुकेश शुक्ला ने कहा कि संकल्प से सिद्धि के बीच का समय ही चुनौतीपूर्ण है, अगर हम इस चुनौती को स्वीकार कर आगे बढ़ते हैं तो हमें निश्चित ही सफलता मिलेगी। कलेक्टर ने कहा कि गरीबी, गंदगी, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, जातिवाद जैसी विकृतियों को समाप्त करने के लिये निरंतर प्रयास करने की आवश्यकता है। सम्मेलन को श्री अभिताभ श्रीवास्तव, श्री इंद्रजीत सिंह छाबड़ा ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक श्री सुशांत सक्सेना, पूर्व अध्यक्ष नगर पालिका श्री प्रकाश जगवानी, श्रीमती सत्यभामा गुप्ता, पार्षद श्रीमती संजीता सरवटे, श्री राजेश्वर उदानिया, श्री शानउल्ला खान, श्री मार्तण्ड त्रिपाठी, समन्वयक जन अभियान परिषद श्री विवेक पाण्डेय, श्रीमती प्रिया सिंह बघेल एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
 
(75 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अक्तूबरनवम्बर 2017दिसम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer