समाचार
|| जिला स्तरीय खनिज टास्क फोर्स की बैठक संपन्न || दिव्यांग परिचय सम्मेलन आज धनौरा में || झूठा शपथ पत्र प्रस्तुत करने पर साहूकारी लायसेन्स निरस्त || 60 दिवस से अधिक के कोई भी प्रकरण पुलिस विवेचना में लंबित न रहें - कलेक्टर || जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक आज || महिला एवं बाल कल्याण स्थायी समिति की बैठक 20 दिसम्बर को || मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजनान्तर्गत अब 2 करोड़ तक की परियोजना लागत को मिलेगी स्वीकृति || किसानों के खातों में शीघ्र ही जमा होगी फसल बीमा की राशि || ई-वे बिल पर कार्यशाला का आयोजन || राजस्व अधिकारियों की बैठक 16 दिसम्बर को
अन्य ख़बरें
महिला बाल विकास और स्वास्थ्य विभाग संयुक्त कार्ययोजना बनाकर कुपोषण हटायें - अर्चना चिटनीस
महिला एवं बाल विकास मंत्री ने ली विभागीय समीक्षा बैठक
सतना | 12-अगस्त-2017
 
  
   प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस ने कहा कि कुपोषण दूर करने महिला बाल विकास और स्वास्थ्य विभाग का अमला संयुक्त कार्य योजना बनाकर कार्य करें। आंगनवाडी केन्द्रों का संचालन नियमित रूप से हो तथा उनमें बच्चों को पोषण आहार के साथ अन्य सभी गतिविधियों का संचालन सुचारू ढंग से किया जाये। इस आशय के निर्देश महिला एवं बाल विकास मंत्री ने सतना में आयोजित जिला स्तरीय समीक्षा बैठक में संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिये। इस मौके पर कलेक्टर नरेशपाल, वनमंडलाधिकारी राजीव मिश्रा, अपर संचालक राजपाल कौर, डीपीओ मनीष सेठ, उपसंचालक कृषि आरएस शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डी.एन. गौतम, उद्यानिकी एसके रेजा सहित पशुपालन, मत्स्य विभाग तथा महिला बाल विकास विभाग के सीडीपीओ, सुपरवाइजर एवं बीएमओ भी उपस्थित थे।
   महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती चिटनीस ने जिले में विश्व स्तनपान सप्ताह विशेष वजन अभियान लालिमा अभियान, पंचवटी से पोषण, स्नेह सरोकार तथा स्मार्ट पोषण विलेज योजना के तहत किये गये कार्यो और गतिविधियों की विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जिला और विकासखण्ड के स्वास्थ्य और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी संयुक्त रूप से ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण करें। जन्म के तुरंत बाद बच्चे को मां का दूध पिलाने की आवश्यकता और महत्व के बारे में व्यापक जागरूकता लाई जाये। जननी एक्सप्रेस में भी इस बात के लिए सीडी लगाकर संदेश प्रसारित करें। आंगनवाडी में आने वाले बच्चों की साफ सफाई पर विशेष ध्यान दें। उन्हें साफ सुथरे रखने का अभियान प्रारंभ करें। लालिमा अभियान की समीक्षा के दौरान मंत्री श्रीमती चिटनीस ने कहा कि खट्टे और मौसमी फलों में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में रहता है। नीबू, आंवला अमरूद कैथा, मुनगा आदि पौधों का ग्रामीण क्षेत्रों और आंगनवाडी में पौध रोपण करायें। मध्यान्ह भोजन चलाने वाले समूहों को भी निर्देशित करें कि वे मौसमी खट्टे फलों का भी उपयोग करें। पंचवटी से पोषण अभियान की समीक्षा में श्रीमती चिटनीस ने कहा कि मुनगा अत्यंत औषधि गुणकारी पौधा है। इसके रोपण के लिए आंगनवाडी केन्द्रों को बीज देकर इन्हें लगाने का प्रशिक्षण दिया जाये। पोषण स्मार्ट विलेज की समीक्षा में बताया गया कि जिले में बर्रेहबडा, गगवरिया, मढीकला, नयागांव, कोल्डिहा, हलावन, भरगंवा, मतहा, रघुनाथपुर, कल्याणपुर, इटमा परसमनिया कुल 12 गांवों का चयन कर कृषि उद्यानिकी पशुपालन, स्वास्थ्य, कृषि विज्ञान केन्द्र की संयुक्त गतिविधियां संचालित की जा रही हैं। मंत्री श्रीमती निटनीस ने कहा कि पोषण स्मार्ट विलेज में कम्पोस्टिंग अनिवार्य की जाये तथा खेत खलिहान की सुरक्षा के लिए करौंदा की झाडियां लगायें, बकरी पालन को प्रोत्साहित किया जाये। कलेक्टर नरेशपाल ने जिले में स्नेह सरोकार अभियान और ग्रामोदय अभियान के तहत बच्चों के नेत्र परीक्षण सहित सीमेंट फैक्टरियों के सीएसआर फण्ड से कुपोषण दूर करने तथा महिला बाल विकास विभाग की सेवाओं को दक्ष बनाने किये गये प्रयासों की जानकारी दी।
 
(122 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2017जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer