समाचार
|| पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी समन्वित रूप से कार्य करें || शहरी क्षेत्र में बी-1 का वाचन होगा - तहसीलदार रतलाम शहर || ऑनलाइन व्यवस्था से सुलझेगी समस्याएं - कलेक्टर || अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण मामलों की समीक्षा बैठक सम्पन्न || खाद, बीज एवं कीटनाशक दवाओं के अमानक मामलों में सख्त कार्रवाई करें || कलेक्टर ने किया जिला अस्पताल एवं बुन्देलखंड मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण || शांति समिति की बैठक 22 अगस्त को || सद्भावना दिवस आज || शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिये पुरस्कार योजना || पोषण आहार में डबल फोर्टीफाइड नमक व तेल का उपयोग अनिवार्य
अन्य ख़बरें
देशहित को सर्वोपरि मानकर कैशलेस भुगतान को अपनायें - केन्द्रीय मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत
डिजि-धन मेला आयोजित
उज्जैन | 11-मार्च-2017
 
   
  
   कालिदास अकादमी परिसर में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिये डिजि-धन मेला आयोजित किया गया। मेले में विभिन्न बैंकों द्वारा कैशलेस ट्रांजेक्शन बढ़ाने व अपने-अपने डिजिटल पेमेंट एप का प्रदर्शन करने के लिये स्टॉल लगाये गये। मेले में हाथोंहाथ खाता खोलकर हितग्राहियों को किट प्रदान किये गये। लोक सेवा केन्द्र, आधार केन्द्र द्वारा भीम एप डाउनलोड करवाया गया एवं पीवीसी आधार कार्ड तैयार किये गये। इंडियन ऑयल कार्पोरेशन द्वारा कैशलेस भुगतान के तरीकों का प्रदर्शन किया गया। कृषि एवं खाद्य विभाग द्वारा भी नगदरहित व्यापार कैसे किया जाये, इसकी जानकारी दी गई।
   डिजि-धन मेले के मुख्य अतिथि केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत थे। श्री गेहलोत ने इस अवसर पर कहा कि देशहित को सर्वोपरि मानकर लोग कैशलेस भुगतान को अपनायें और देश का भला करें। उन्होंने कहा कि ईमानदार प्रवृत्ति को बढ़ावा देने के लिये व कालेधन को रोकने के लिये प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा डिजिटल इण्डिया के अन्तर्गत कैशलेस सिस्टम प्रारम्भ किया गया है। नकली मुद्रा और कालेधन से मुक्ति दिलाने के लिये विमुद्रीकरण किया गया। यह सब प्रयास देश को विकासशील से विकसित देश की श्रेणी में ले जाने के लिये किये जा रहे हैं। श्री गेहलोत ने कहा कि विमुद्रीकरण में लगभग 11 लाख करोड़ रूपये जमा हुए हैं। इस राशि के जमा होने से बैंक अब कम ब्याज दर में ऋण देने लगे हैं। आवास के लिये ऋण में 12 लाख रूपये तक के ऋण पर तीन प्रतिशत तक तथा नौ लाख रूपये तक चार प्रतिशत की छूट दी जा रही है। इसका लाभ अब सीधे-सीधे जनता को मिल रहा है। सामाजिक न्याय मंत्री ने कहा कि वर्ष 2021 तक कोई भी व्यक्ति बेघर नहीं रहेगा। उन्होंने कालेधन को पैदा होने से रोकने के लिये डिजिटल पेमेंट सिस्टम का उपयोग करने का आव्हान किया।
   सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय ने इस अवसर पर कहा कि आज जिस दौर में हम जी रहे हैं, वह क्रान्तिकारी है। यहां पर पल-पल में टेक्नालॉजी बदल रही है और इस टेक्नालॉजी का उपयोग यदि हम नहीं कर पायेंगे तो पिछड़ जायेंगे। केन्द्र शासन की 60 प्रतिशत से अधिक सेवाएं डिजिटल हो गई हैं। इससे मनरेगा एवं एलपीजी सब्सिडी में भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा है। अब हितग्राहियों के खाते में सीधा पैसा पहुंचता है। डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर से सुशासन की दिशा में कदम बढ़ा है।
   महापौर श्रीमती मीना जोनवाल ने कहा कि आज का परिवेश बदल रहा है और हमने भी बदलने का प्रयास किया है। नगर निगम में ई-पेमेंट, ई-टेण्डरिंग को बढ़ावा दिया जा रहा है। निगम में जितनी भी योजनाएं संचालित हैं, उन सभी का भुगतान कैशलेस हो रहा है।
   कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने इस अवसर पर कहा कि वर्तमान में चलन में आ रही मुद्रा के स्थान पर ऑनलाइन कैशलेस को बढ़ावा देने के लिये और डिजिटल सोसायटी का प्रचार-प्रसार करने के लिये डिजि-धन मेला लगाया गया है।
डिजिटल लक्की ग्राहक योजना के ड्रॉ निकाले गये
    केन्द्र सरकार द्वारा संचालित डिजिटल लक्की ग्राहक योजना के नेशनल पेमेंट कार्पोरेशन ऑफ इण्डिया के श्री पुष्पेन्द्र सिंह द्वारा ड्रॉ निकाले गये। ड्रॉ केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत, सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय, महापौर श्रीमती मीना जोनवाल, पद्मश्री भजन गायक श्री प्रहलाद टिपानिया, नगर निगम अध्यक्ष श्री सोनू गेहलोत एवं श्री इकबालसिंह गांधी ने निकाले। चार श्रेणी में निकाले गये ड्रॉ में 15 हजार व्यक्तियों को एक-एक हजार रूपये के पुरस्कार डिजिटल ट्रांजेक्शन करने पर दिये गये। जिन व्यक्तियों के ड्रॉ निकले वे सम्पूर्ण देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन करने वाले व्यक्तियों में से हैं।
बेलरी के सरपंच सम्मानित
   डिजि-धन मेले में उज्जैन जिले के प्रथम कैशलेस ग्राम बेलरी के सरपंच श्री रामचन्द्र धाकड़ का अतिथियों द्वारा शाल एवं श्रीफल से सम्मान किया गया। इसी के साथ हाल ही में नव-विवाहित दिव्यांग जोड़ों को अतिथियों द्वारा डिजि-लॉकर एवं पीवीसी आधार कार्ड बनाकर भेंट किया गया। केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री गेहलोत ने दिव्यांग जोड़े रानी-गोरधन, अजरा-इरशाद अहमद, नजमा-अब्दुल हमीद व नीशा-अब्दुल को उक्त पीवीसी आधार कार्ड भेंट किये। इसी तरह बैंक ऑफ इण्डिया द्वारा तराना के कैलाशचन्द्र, बलेड़ी के प्रहलाद चौधरी, कोटवार रामलाल राठौर, पुष्प व्यापारी मयंक तिवारी को बैंक में खाता खोलते हुए डिजिटल किट भेंट किये गये। कार्यक्रम में शामिल सभी कोटवारों को रूपे कार्ड प्रदान करते हुए उनका नि:शुल्क दुर्घटना बीमा किया गया।
पेंटिंग प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया
   डिजि-धन मेले में पेंटिंग एवं स्लोगन प्रतियोगिता आयोजित की गई। इनके विजेताओं को केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री गेहलोत ने प्रशस्ति-पत्र भेंट किये। पेंटिंग प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर शासकीय कन्या महाविद्यालय की कु.श्रद्धा, द्वितीय स्थान पर कु.प्रतीक्षा भदौरिया तथा तृतीय स्थान पर प्रशान्ति इंस्टिट्यूट के छात्र लखन गुप्ता रहे। स्लोगन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर माधव विज्ञान महाविद्यालय की कु.सुरभि दाभाड़े, द्वितीय स्थान पर माधव विज्ञान महाविद्यालय के हर्षवर्धनसिंह सोलंकी तथा तृतीय स्थान पर शासकीय कन्या महाविद्यालय की कु.शीतल प्रजापत रही।
   डिजिधन मेले के प्रारम्भ में मेले की रूपरेखा जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एसएस रावत द्वारा प्रस्तुत की गई। कार्यक्रम के अन्त में आभार शहरी विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी श्री भविष्य खोबरागड़े ने माना। कार्यक्रम में केन्द्र सरकार के अधिकारियों श्री राजेश शर्मा, श्री शिवसिंह मीणा, श्री पुष्पेन्द्र पाठक, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती यशोदा बैरागी, श्री किशोर शर्मा, श्री मदनलाल चौहान, बैंक ऑफ इण्डिया के आंचलिक प्रबंधक श्री एके पाठक, एलडीएम श्री आरके तिवारी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन शैलेन्द्र व्यास ने किया।
   डिजि-धन मेले में स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया द्वारा स्टॉल लगाकर प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, एग्रीगोल्ड योजना, पाइंट ऑफ सेल, एसबीआई होमलोन व स्टेण्डअप योजना की जानकारी विस्तार से हितग्राहियों को बताई गई। इसी तरह नर्मदा-झाबुआ बैंक, इलाहाबाद बैंक, कार्पोरेशन बैंक, यूको बैंक, आन्ध्रा बैंक, युनाईटेड बैंक ऑफ इण्डिया, इण्डियन ऑयल कार्पोरेशन, एमपी ऑनलाइन, श्री महाकालेश्वर मन्दिर समिति द्वारा भी अपने-अपने स्टॉल खोलकर कैशलेस ट्रांजेक्शन की जानकारी प्रदान की गई। निजी मोबाइल कंपनियों ने व पेमेंट एप कंपनी द्वारा भी अपने-अपने स्टॉल लगाये गये। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री आवास योजना से सम्बन्धित तीन हजार हितग्राहियों, कोटवारों, छात्रों एवं स्थानीय लोगों द्वारा भाग लिया गया।
(160 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2017सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer