समाचार
|| जल उपभोक्ता संथाओं के निर्वाचन हेतु अधिकारी नियुक्त || जल उपभोक्ता संथाओं के निर्वाचन हेतु अधिकारी नियुक्त || "मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना" जिले से तीर्थयात्री जायेंगे द्वारका धाम || सेवानिवृत्ति पर शिवदयाल प्रजापति को दी गई विदाई || वृहद् विधिक साक्षरता एवं समस्या निवारण शिविर 01 मई को || राज्य महिला आयोग की संयुक्त बैंच की बैठक 5 मई को || जनप्रतिनिधि तथा अधिकारी समन्वय से योजनाएं क्रियान्वित करें - प्रभारी मंत्री || शासन द्वारा घोषित समर्थन मूल्य पर जिले में 83 हजार मेट्रिक टन का उर्पाजन || सुनहरा में के.व्ही.के. द्वारा अजोला उत्पादन पर प्रशिक्षण || छात्रवृत्ति हेतु आवेदन आमंत्रित
अन्य ख़बरें
‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम’’ आज
जिला पंचायत अध्यक्ष, कलेक्टर, एस.पी., विधायक भी स्कूलों में बच्चों से पुस्तकों का वाचन करवाएगें
आगर-मालवा | 17-फरवरी-2017
 
   प्रदेश के साथ-साथ आगर-मालवा जिले के सभी प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में आज 18 फरवरी 2017 को प्रातः 11 बजे से ‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश’’ कार्यक्रम का आयोजन होगा। ‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम’’ अन्तर्गत आज जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कलाबाई गुहाटिया विकासखण्ड सुसनेर के ग्राम ढाबला, कलेक्टर श्री डी.व्ही.सिंह जनपद पंचायत बड़ौद के ग्राम सुहागढ़ी, पुलिस अधीक्षक श्री आर.एस.मीणा ग्राम आकड़ी बड़ौद, विधायक श्री गोपाल परमार कन्या माध्यमिक विद्यालय बड़ौद, सीईओ जिला पंचायत श्री राजेश शुक्ल ग्राम थड़ौदा के स्कूलों में बच्चों से हिन्दी पाठ्यपुस्तक अथवा शाला पुस्तकालय में उपलब्ध रूचिकर पुस्तकों में किसी एक पुस्तक के एक अंश पाठ का वाचन करवाएंगे। वाचन के उपरान्त कक्षा में उपस्थित बच्चों से रूचिकर प्रश्नों, सामूहिक परिचर्चा संवाद एवं पढ़ने की कला, खेलकूद सहित साफ-सफाई के संबंध में भी परिचित कराया जाएगा।
कम से कम दो घंटे तक विद्यालय में पठन-पाठन का कार्य कराएं
   कलेक्टर श्री सिंह ने पंजीकृत वालेन्टियरों से अपील की है कि वे पंजीकृत विद्यालय में प्रातः11 बजे तक अनिवार्य रूप से पहुंच जाए तथा कम से कम दो घंटे तक विद्यालय में पठन-पाठन का  कार्य करें। उन्होंने बताया कि पंजीकृत वालेन्टियर्स संबंधित विद्यालय के प्राचार्य से रिपोर्ट कार्ड प्राप्त करें। पठनपाठन कार्य पश्चात् रिपोर्ट कार्ड की पूर्ति कर संबंधित प्राचार्य को ही सौंपे। कलेक्टर श्री सिंह ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि 18 फरवरी को शाला प्रातः 10:30 बजे से 4:30 बजे खुली रहें और शिक्षक-शिक्षिका शाला में उपस्थित रहें। संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए कि प्रतिदिन पंजीयन की जानकारी से अवगत कराए। कलेक्टर श्री सिंह ने कार्यक्रम के उद्देश्य से अवगत कराते हुए कहा कि जीवन में सफलता पाने हेतु शिक्षा आवश्यक है तथा इसकी नींव स्कूली शिक्षा मानी जाती है। भाषा ज्ञान बच्चों में न केवल आधारभूत बौद्धिक कौशल का विकास करती है, बल्कि यह अन्य विषयों की समझ एवं रूचि विकास में सहायक हैं। इसलिये आवश्यक है कि प्रारम्भिक स्तर पर दी जा रही शिक्षा में भाषा ज्ञान सहजता से प्राप्त हो, ताकि बच्चे अपनी बात एवं भावों को अभिव्यक्त कर सकें।
कन्ट्रोल रूम स्थापित
   कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि ‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम’’ हेतु जिला स्तर पर कलेक्टर कार्यालय में कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जिसका नम्बर 07362-260001 है। कन्ट्रोल रूम में जिला शिक्षा केन्द्र के अधिकारी की ड्यूटी लगाई गई है। किसी भी प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय में असुविधा होने पर पंजीकृत वालेन्टियर्स सहित अन्य सूचना दे सकते है।
 
(70 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2017मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer