समाचार
|| जिले को मिला सर्वश्रेष्ठ टूरिज्म प्रमोशन काउन्सिल का पुरुस्कार || भावान्तर योजना कृषक के लिये सुरक्षा कवच || पर्यटन संबंधी फोटो प्रतियोगिता का आयोजन 23 अक्टूबर तक || विभिन्न रमणीक स्थलों का सौभाग्य सिवनी जिले को है प्राप्त || समय-सीमा बैठक संपन्न || अमरूद फल बहार की नीलामी 23 अक्टूबर को || राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस धनवंतरी दिवस के अवसर पर नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन 17 अक्टूबर को || डॉ. शिवराज शाह का दौरा कार्यक्रम || एक निर्माण कार्य के लिए एक लाख रूपये की राशि स्वीकृत || एक ग्राम राजस्व ग्राम घोषित
अन्य ख़बरें
‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम’’ आज
जिला पंचायत अध्यक्ष, कलेक्टर, एस.पी., विधायक भी स्कूलों में बच्चों से पुस्तकों का वाचन करवाएगें
आगर-मालवा | 17-फरवरी-2017
 
   प्रदेश के साथ-साथ आगर-मालवा जिले के सभी प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों में आज 18 फरवरी 2017 को प्रातः 11 बजे से ‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश’’ कार्यक्रम का आयोजन होगा। ‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम’’ अन्तर्गत आज जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कलाबाई गुहाटिया विकासखण्ड सुसनेर के ग्राम ढाबला, कलेक्टर श्री डी.व्ही.सिंह जनपद पंचायत बड़ौद के ग्राम सुहागढ़ी, पुलिस अधीक्षक श्री आर.एस.मीणा ग्राम आकड़ी बड़ौद, विधायक श्री गोपाल परमार कन्या माध्यमिक विद्यालय बड़ौद, सीईओ जिला पंचायत श्री राजेश शुक्ल ग्राम थड़ौदा के स्कूलों में बच्चों से हिन्दी पाठ्यपुस्तक अथवा शाला पुस्तकालय में उपलब्ध रूचिकर पुस्तकों में किसी एक पुस्तक के एक अंश पाठ का वाचन करवाएंगे। वाचन के उपरान्त कक्षा में उपस्थित बच्चों से रूचिकर प्रश्नों, सामूहिक परिचर्चा संवाद एवं पढ़ने की कला, खेलकूद सहित साफ-सफाई के संबंध में भी परिचित कराया जाएगा।
कम से कम दो घंटे तक विद्यालय में पठन-पाठन का कार्य कराएं
   कलेक्टर श्री सिंह ने पंजीकृत वालेन्टियरों से अपील की है कि वे पंजीकृत विद्यालय में प्रातः11 बजे तक अनिवार्य रूप से पहुंच जाए तथा कम से कम दो घंटे तक विद्यालय में पठन-पाठन का  कार्य करें। उन्होंने बताया कि पंजीकृत वालेन्टियर्स संबंधित विद्यालय के प्राचार्य से रिपोर्ट कार्ड प्राप्त करें। पठनपाठन कार्य पश्चात् रिपोर्ट कार्ड की पूर्ति कर संबंधित प्राचार्य को ही सौंपे। कलेक्टर श्री सिंह ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि 18 फरवरी को शाला प्रातः 10:30 बजे से 4:30 बजे खुली रहें और शिक्षक-शिक्षिका शाला में उपस्थित रहें। संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए कि प्रतिदिन पंजीयन की जानकारी से अवगत कराए। कलेक्टर श्री सिंह ने कार्यक्रम के उद्देश्य से अवगत कराते हुए कहा कि जीवन में सफलता पाने हेतु शिक्षा आवश्यक है तथा इसकी नींव स्कूली शिक्षा मानी जाती है। भाषा ज्ञान बच्चों में न केवल आधारभूत बौद्धिक कौशल का विकास करती है, बल्कि यह अन्य विषयों की समझ एवं रूचि विकास में सहायक हैं। इसलिये आवश्यक है कि प्रारम्भिक स्तर पर दी जा रही शिक्षा में भाषा ज्ञान सहजता से प्राप्त हो, ताकि बच्चे अपनी बात एवं भावों को अभिव्यक्त कर सकें।
कन्ट्रोल रूम स्थापित
   कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि ‘‘मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम’’ हेतु जिला स्तर पर कलेक्टर कार्यालय में कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जिसका नम्बर 07362-260001 है। कन्ट्रोल रूम में जिला शिक्षा केन्द्र के अधिकारी की ड्यूटी लगाई गई है। किसी भी प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय में असुविधा होने पर पंजीकृत वालेन्टियर्स सहित अन्य सूचना दे सकते है।
 
(241 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2017नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer