समाचार
|| मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भटौली में किया 324 करोड़ रुपये के सीवरेज प्लांट एवं 149 करोड़ रुपये की जल प्रदाय योजना के लिए भूमिपूजन || मध्यप्रदेश गौपालन एवं पशुधन संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष का दौरा कार्यक्रम || टास्क फोर्स समिति की बैठक सम्पन्न || प्रधानमंत्री जी के 15 सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति की बैठक सम्पन्न || सी.एम. हेल्पलाइन के प्रकरणों के निराकरण में उत्कृष्ट प्रगति पर सहायक यंत्री सम्मानित || समीक्षा बैठक का आयोजन आज || संभागीय जनसम्पर्क कार्यालय में श्री सिंह ने किया पदभार ग्रहण || उद्योग मंत्री श्री शुक्ल करेंगे गौवंश वन्यविहार का भूमिपूजन || विंध्य विकास प्राधिकरण की सामान्य सभा की बैठक 19 दिसम्बर को || टी.बी. के रोगियों का घर-घर सर्वे 14 से 28 दिसम्बर तक
अन्य ख़बरें
चार गांव के 297 शौचालय विहीन परिवार को शासकीय सुविधा नहीं मिलेगी - कलेक्टर
-
आगर-मालवा | 16-फरवरी-2017
 
   कलेक्टर श्री डी.व्ही.सिंह की अध्यक्षता में 19 फरवरी 2017 को मिडिल स्कूल सुसनेर में भारत सरकार के केबिनेट मंत्री सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावरचन्द्र गेहलोत के मुख्य आतिथ्य में आयोजित होने वाले वृहद् दिव्यांग सम्मेलन एवं अन्त्योदय मेले के सफल आयोजन हेतु आज जनपद पंचायत सुसनेर के सभाकक्ष में बैठक आयोजित की गई। इस अवसर पर जिला योजना अधिकारी एवं प्रभारी उप संचालक सामाजिक न्याय एवं निःशक्त कल्याण विभाग डॉ. सुनील चौहान, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एस.बारिया, उप संचालक कृषि श्री आर.पी.कनेरिया, उप संचालक उद्यानिकी श्री पिपल्दे, तहसीलदार सुसनेर श्री मुकेश सोनी सहित अन्य विभागो के जिला अधिकारी मौजूद थे।
    कलेक्टर श्री सिंह ने स्वच्छ भारत मिशन अन्तर्गत शौचालय निर्माण की समीक्षा के दौरान खुले में शौच से मुक्त नहीं ग्राम डोंगरगांव, बरई, सोयतखुर्द एवं मोड़ी का बाजना के सरपंच एवं सचिवों को शौचालय निर्माण एक सप्ताह में कराने के सख्त निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ग्राम को खुले में शौच मुक्त करने में सहयोग न प्रदान करने वाले एवं खुले मंे शौच से गन्दगी फैलाने वाले इन ग्राम डोंगरगांव, बरई, सोयतखुर्द एवं मोड़ी का बाजना के कुल 297 परिवारों को शासन की सुविधाओं से तब तक वंचित रखा जाएगा, जब तक उनके द्वारा घरों में शौचालयों का निर्माण न कर लिया जाए। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि शौचालयविहीन परिवार यदि एक सप्ताह में शौचालय का निर्माण नहीं करेंगे तो उनके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही भी की जाएगी।
    कलेक्टर श्री सिंह ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए कि अन्त्योदय मेले में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन व्यवस्थित ढंग से किया जाए। दिव्यांगों के स्वास्थ्य परीक्षण की व्यवस्था पृथक से की जाए, ताकि उनको किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े। उन्होंने निर्देश दिए कि स्वास्थ्य विभाग के मैदानी अमले को भी शिविर में तैनात किया जाए। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य शिविर में मानसिक रोग विशेषज्ञ, अस्थि रोग विशेषज्ञ, नाक, कान एवं गला विशेषज्ञ, शिशु रोग विशेषज्ञ आदि द्वारा मरीजो एवं दिव्यांगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। मरीजों को हेल्थ कार्ड भी वितरित किए जाएंगे जिसमें विभिन्न जांचों, ईलाज का विवरण दर्ज किया जाएगा। मरीजों को दवाईयों का वितरण भी इस शिविर में किया जाएगा। उन्होंने बताया कि दिव्यांग परीक्षण शिविर में दिव्यांगों का परीक्षण उपरान्त दिव्यांग प्रमाण पत्र एवं पेंशन स्वीकृति पत्र वितरित किये जाएंगे तथा दिव्यांगों को उपकरण भी अतिथियों द्वारा वितरित किये जाएंगे। कलेक्टर श्री सिंह ने विभिन्न विभागों की योजनाओं से संबंधित विकास कार्यो के शिलान्यास एवं लोकार्पण की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिए।
    कलेक्टर श्री सिंह ने कृषि विभाग, उद्यानिकी विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारी को कार्यक्रम स्थल पर विभाग से संबंधित शासन की योजनाओं की प्रदर्शनी लगाने के निर्देश देते हुए कहा कि विभाग से संबंधित योजनाओं की प्रचार-प्रसार सामग्री स्टॉल लगाकर वितरित करें। कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देश दिए कि पेंशन योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, उज्ज्वला योजना, लाडली लक्ष्मी योजना सहित शासन की अन्य योजनाओं में पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाए।
    कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि निःशक्त विवाह प्रोत्साहन योजनान्तर्गत निःशक्तों के विवाह हेतु पंजीयन किये जाकर, सामूहिक विवाह आयोजित कर 50-50 हजार की राशि प्रदाय की जाएगी। उन्होंने प्रभारी उप संचालक सामाजिक न्याय को वृहद् दिव्यांग सम्मेलन एवं अन्त्योदय मेला कार्यक्रम स्थल पर दिव्यांगजनों को ट्रायसिकल, बैशाखी,व्हील चेयर, श्रवणयंत्र आदि वितरित कराने की व्यवस्था, दिव्यांगजनों को लाने ले जाने, बैठने आदि की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्यक्रम स्थल पर भोजन, पानी, बैठने की व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया।
    कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि शिविर मे दिव्यांगजनों को भारत सरकार की युनिवर्सल आई.डी. प्रोजेक्ट योजनान्तर्गत आई.डी. कार्ड वितरण किये जायेंगे। शिविर मे दिव्यांग हितग्राहियांे को आई.डी. कार्ड प्राप्त करने हेतु पासपोर्ट फोटो, आधार कार्ड,  आवेदक के पते के प्रमाण के लिये प्रथम आधार कार्ड,  राशन कार्ड, वोटर आई डी कार्ड , पेन कार्ड/ लाइसेंस. आदि की फोटो कापी, आवेदक विंकलाग भत्ता ले रहा हो,तो पेंशन कार्ड का नंबर, आवेदक अनु.जाति/जनजाति/पिछडा वर्ग से है, तो जाति प्रमाण पत्र की फोटो कापी, आवेदक का ब्लड ग्रुप एवं मोबाइल नम्बर लाना अनिवार्य होगा।
    कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देश दिए कि ग्रामीण एवं नगरीय क्षैत्र में शिविरों का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए, ताकि अधिक से अधिक पात्र हितग्राही शासन की योजनाओं का लाभ ले सकें। बैठक के पश्चात् कलेक्टर श्री सिंह ने कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
 
(298 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2017जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer