समाचार
|| मुख्यमंत्री आज वी.सी. के जरिए अफसरों से रूबरू होंगे || दूध की बढ़ी हुई मांग पूरी करने प्रशासन ने कदम उठाए || मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी का दौरा कार्यक्रम || प्रेक्षको ने लिया मतदान सामग्री का जायजा || प्रेक्षको ने किया सुरपुरा एवं अटेर पुलिस थानो का भ्रमण || उच्च शिक्षा मंत्री ने की भारत माता की महाआरती : जले 365 दीप || दीनदयाल रसोई से मिलेगा 5 रूपये में भरपेट भोजन || कलेक्टर ने किया मां चामुण्डा टेकरी का निरीक्षण || ग्रामोदय अभियान के संबंध में वीडियो कांफ्रेंसिंग आज || जीवन कौशल प्रशिक्षण हेतु प्रस्ताव आमंत्रित
अन्य ख़बरें
युवा दिवस पर उत्कृष्ट विद्यालय प्रांगण में हुआ सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम कार्यक्रम
विधायक श्री सिसौदिया ने अपनी स्वेच्छानुदान निधि से प्रतिवर्ष 5-5 छात्र-छात्राओं और 1-1 शिक्षक-शिक्षिका को कन्याकुमारी दर्शन कराने की घोषणा की
मन्दसौर | 12-जनवरी-2017
 
 
  स्वामी विवेकानन्दजी की जयन्ती के मौके पर 12 जनवरी को युवा दिवस मनाया गया। इस मौके पर शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मन्दसौर के क्रीडा प्रांगण में  सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम कार्यक्रम आयोजित किया गया। सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम कार्यक्रम में विधायक मंदसौर श्री यशपाल सिंह सिसौदिया, जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री मदनलाल राठौर, कलेक्टर श्री स्वतंत्र कुमार सिंह, जनपद पंचायत मंदसौर के अध्यक्ष श्री शांतिलाल मालवीय, एसडीएम श्री राजावत, जिला शिक्षाधिकारी श्री बीएस पटेल, श्री विनोद शर्मा, श्री बंशीलाल टांक एवं अन्य अधिकारियों, शाला प्राचार्य, शिक्षकगण, गायत्री परिवार, पतंजलि योगपीठ के पदाधिकारी मौजूद थे। युवा दिवस पर कार्यक्रम स्थल में मंदसौर नगर के 10 स्कूलों के करीब 3500 विद्यार्थियों ने एक साथ योग कर अपनी सहभागिता की। जिलास्तरीय कार्यक्रम के साथ-साथ जिले की सभी विकासखण्डस्तरीय शालाओं तथा समस्त शासकीय एवं अशासकीय शालाओं में भी तय कार्यक्रम के अनुसार सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम आयोजित किया गया।
   कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विधायक श्री सिसौदिया ने अपनी स्वेच्छानुदान निधि से उत्कृष्ट उमावि के 5 छात्रों, 5 छात्राओं, एक शिक्षक और एक शिक्षिका, कुल 12 व्यक्तियों को प्रतिवर्ष कन्याकुमारी दर्शन कराने की घोषणा की। इन 12 व्यक्तियों के कन्याकुमारी दर्शन हेतु आने-जाने, ठहरने और वहां भ्रमण करने का संपूर्ण व्यय विधायक स्वेच्छानुदान निधि से किया जायेगा। इन 12 व्यक्तियों का चयन शाला प्राचार्य करेंगें। कन्याकुमारी दर्शन प्रतिवर्ष वार्षिक परीक्षा के बाद होगा। विधायक श्री सिसौदिया ने स्वामी विवेकानन्दजी का स्मरण करते हुए कहा कि योग हमारी समृद्धशाली संस्कृति की पुरातन धरोहर है। योग की महिमा को अब पूरे विश्व मे स्वीकार कर लिया गया है। संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा 21 जून को विश्व योग दिवस घोषित कर दिया गया है। यह हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदीजी की पहल का असर है, कि अब पूरे विश्व के लोग प्रतिवर्ष 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाते हैं।  
   कलेक्टर श्री सिंह ने कहा मध्यप्रदेश में पिछले 10 सालों से युवा दिवस के मौके पर सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम कार्यक्रम मनाया जा रहा है, यह हमारे मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की योग को जन-जन तक पहुचाने के लिये की गई एक सराहनीय एवं अनुकरणीय पहल है। उन्होने स्कूली बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुये उनसे अनुरोध किया कि वे प्रदेश की बेहतरी और विकास के लिये काम करें, क्योकि आज हमारा परिवार, समाज, प्रदेश और पूरा देश युवाओं की ओर बड़ी अपेक्षाओं से निहार रहा है।
   इस मौके पर पहले आकाशवाणी भोपाल से मुख्यमंत्रीजी का रेडियो संदेश प्रसारित किया गया। रेडियो संदेश मे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बच्चो को योग कर निरोगी बनने की अपील की। उन्होने कहा कि योग करने से हड्डियॉं एवं मांसपेशियॉं मजबूत होती है। योग मनुष्य को ईश्वर तक पहुचाने की सीढ़ी है। इसके पश्चात सामूहिक सूर्य नमस्कार कर योग की 12 क्रियाऍ एवं प्राणायाम की 3 क्रियाऍ सम्पन्न कराई गयीं।             
   मालूम हो कि सूर्य नमस्कार एक ऐसी गतिविधि है जो हमारे शारीरिक और मानसिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करती हैं। सूर्य नमस्कार भारतीय योग परम्परा का अभिन्न अंग है। यह विभिन्न आसन, मुद्रा और प्राणायाम का वह समन्वय है जिससे शरीर के सभी अंगों-उपांगों का पूर्ण व्यायाम होता है। सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम का मुख्य उद्देश्य सूर्य नमस्कार की प्राचीन परम्परा के माध्यम से जनसामान्य को शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है। यह आयोजन केवल एक दिवस के लिए ही नहीं है बल्कि प्रतीक रूप मे इसे एक दिवस आयोजित किया गया था। सूर्य नमस्कार के महत्व को देखते हुए अनेक संस्थाओं द्वारा इसकी निरन्तरता को बनाये रखा गया है, तथा वर्ष 2007 से प्रदेश के समस्त विद्यालयों में इसका आयोजन सतत् किया जा रहा है। पूर्व में आयोजित इस कार्यक्रम की सफलता से प्रेरित होकर राज्य शासन द्वारा इसे प्रति वर्ष आयोजित करने का निर्णय लिया गया। सूर्य-नमस्कार को सर्वांग व्यायाम भी कहा जाता हैं, समस्त यौगिक क्रियाओं की भांति सूर्य-नमस्कार के लिये भी प्रातः काल सूर्योदय का समय सर्वोत्तम माना गया हैं। सूर्य नमस्कार सदैव खुली हवादार जगह पर कम्बल का आसन बिछाकर खाली पेट अभ्यास करना चाहिये।
जिले में 136203 से अधिक प्रतिभागियों ने किया सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम
   जिला शिक्षाधिकारी श्री पटेल ने बताया कि कार्यक्रम स्थल में मंदसौर नगर के 10 स्कूलों के करीब 3500 विद्यार्थियों तथा पूरे जिले में 470 विद्यालयों के 72604 छात्र, 58012 छात्राएं तथा 3211 शिक्षक व 1206 शिक्षिकाएं तथा 405 अभिभावक 295 जनप्रतिनिधि इस प्रकार 136203 ने सामूहिक सूर्य नमस्कार में सहभागिता की।
 
(76 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
फरवरीमार्च 2017अप्रैल
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272812345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer