समाचार
|| नेशनल लोक अदालत का आयोजन आज || सामाजिक सद्भाव के दूत है मकराना के मुस्लिम कारीगर (सफलता की कहानी) || जगन्नाथपुरी तीर्थ यात्रियों की ट्रेन 24 अप्रैल को होगी रवाना || पगमार्क कैफे का शुभारंभ आज || नेशनल लोक अदालत का शुभारंभ आज प्रातः 10.30 बजे || सभी पात्र श्रमिकों को असंगठित श्रमिक योजना का लाभ दिलाना सुनिश्चित करें - मुख्यमंत्री || जिले के पांच गांव में चलाया जायेगा मिशन इंदधनुष || कलेक्टर ने किया गेहूं खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण || पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव का आगमन आज || मुख्यमंत्री ने सभी कलेक्टर्स को पेयजल व्यवस्था सुचारू रखने के निर्देश दिए
अन्य ख़बरें
बुजुर्ग हमारे माता पिता तुल्य-कलेक्टर
वृद्धाश्रम में परिवार जैसा वातावरण निर्माण पहली प्राथमिकता-कलेक्टर
अशोकनगर | 11-जनवरी-2017
 
 
   वृद्धाश्रम में रहने वाले बुजुर्ग हमारे माता पिता के समान है। पारिवारिक माहौल में रहकर 90 वर्षीय वृद्ध श्री धनसिंह अहिरवार का जन्मदिन मनाना सौभाग्य की बात है, आज का दिन वास्तव में बहुत ही अनूठा एवं सौभाग्यशाली दिन है। इस आश्‍ाय के विचार कलेक्टर श्री बी.एस. जामोद द्वारा बुधवार को स्थानीय वृद्धाश्रम में फीड संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम के दौरान व्यक्त किये।
   कलेक्टर श्री जामोद ने कहा कि 90 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके श्री धनसिंह अहिरवार पूर्ण रूप से स्वस्थ रहे एवं दीर्घायु हो यही हमारी ईश्‍ावर से कामना है। उन्होंने कहा कि वृद्धाश्रम में जन्मदिन मनाने की परम्परा की शुरूआत करने का मुख्य उददेश्‍ाय यही है कि पारिवारिक माहौल देकर बुजुर्गो के साथ आनंद उत्सव मनाया जाये। उन्होंने कहा कि हम आपके बेटे बनकर आये है और हमेश्‍ा आपकी खुश्‍ियों में श्‍ामिल होते रहेगे। उन्होंने कहा कि बुजुर्गो की  सेवा करना हम सभी का धर्म है। वृद्धाश्रम में रहने वाले प्रत्येक बुजुर्ग  के जीवन में अपार खुश्‍ियां आये यही कामना करते है। उन्होंने आशवस्त किया कि वृद्धाश्रम में रहने वाले बुजुर्ग अपने मूल परिवार में बापिस पहुंचे ऐसे प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने इस तरह के आयोजन निरंतर किये जाने पर भी बल दिया।
   मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री के. के. श्रीवास्तव ने कहा कि यहां आकर उन्हें बेहद खुशी हो रही है। यह बहुत ही सौभाग्य की बात है कि कलेक्टर की अनूठी पहल पर 90 वर्ष के श्री धनसिंह का जन्मदिन बड़ी धूमधाम के साथ मनाया गया। यह क्षण जिन्दगी में हमेश्‍ा यादगार रहेगा।
   प्रभारी उपसंचालक श्री आर.एस. श्रीवास्तव ने कहा कि बृद्धाश्रम में रहने वाले बुजुर्गो के आशीर्वाद से बृद्धाश्रम का सफल संचालन कर सभी आवशयक सुविधाये उपलब्ध करायी जा रही है। बृद्धाश्रम में अपनो से दूर होने का अहसास  न हो इस हेतु पारिवारिक माहौल दिये जाने के सफल प्रयास किये जा रहे है।
   जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री राहुल पाठक ने कहा कि बुजुर्गो का आशीर्वाद ही सर्वोपरि होता है। परिवार में बुजुर्गो का सम्मान किया जाना आवशयक है। बुजुर्गो के प्रति परिवार के प्रत्येक सदस्य को संवेदनशिलता के साथ व्यवहार करना चाहिये। बुजुर्गो को परिवार से कभी भी अलग न करे। उनका आशीर्वाद प्राप्त करे और उनकी सेवा कर पुण्य लाभ ले।
धनसिंह ने दिया आशीर्वाद
   वृद्धाश्रम में रहने वाले श्री धनसिंह अहिरवार की खुश्‍ी का ठिकाना नही रहा जब कलेक्टर को वृद्धाश्रम में पाया और कलेक्टर के साथ केक काटा। कलेक्टर ने केक कटबाकर धनसिंह को खिलाया और आश्‍ीर्वाद प्राप्त किया। उन्होंने धनसिंह को तिलक लगाकर श्‍ॉल एवं श्रीफल भेंट किया। इस अवसर पर श्री धनसिंह ने कहा कि उसे वृद्धाश्रम में अपार खुश्‍ियां मिली है। उसने पहली बार इतने खुशनुमा माहौल में अपना जन्मदिन मनाया है। जन्मदिन कार्यक्रम में कलेक्टर सहित अन्य अधिकारियों को श्री धनसिंह द्वारा आशीर्वाद दिया गया।
                     आश्रम का किया निरीक्षण
   कलेक्टर श्री जामोद द्वारा वृद्धाश्रम का निरीक्षण कर व्यवस्थाओ का जायजा लिया गया वृद्धाश्रम में निवासरत 23 बुजुर्गो से मिलकर हालचाल पूछे तथा आश्रम की व्यवस्थाओ सहित भोजन एवं दिनचर्या के बारे मे जानकारी ली। इस दौरान बताया गया कि वृद्धाश्रम में महिला आश्रय ग्रह का भी संचालन किया जा रहा है। जिसमें 2 बच्चियों सहित 3 महिलाये भी वहां पर रह रही है।
   इस अवसर पर फीड संस्था के सचिव श्री पंकज शर्मा गणमान्य नागरिक तथा वृद्धजन उपस्थित थें।
(466 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2018मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2627282930311
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
30123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer